मुख्य समाचार
हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा
 

इसरो ने फ्रेंच गुएना से संचार उपग्रह जीसैट 31 का किया प्रक्षेपण


DEEP KRISHAN SHUKLA 06/02/2019 11:49:55
91 Views

New Delhi. इसरो ने अपने 40वें संचार उपग्रह जीसैट 31 का बुधवार को सफल प्रक्षेपण किया। 15 वर्ष की आयु वाले इस उपग्रह को फ्रेंच गुएना के अंतरिक्ष केन्द्र से प्रक्षेपित किया गया। इस उपग्रह की खासियत यह है कि ये कक्षा में मौजूद उपग्रहों की संचालन संबंधी सेवाओं को जारी रखने में मदद करने के साथ ही जियोस्टेशनरी कक्षा के केयू बैंड ट्रांसपोंडर की क्षमता संवर्धन का काम करेगा। इसरो के मुताबिक यह उपग्रह 2535 किलोग्राम वजन का है जिसे एरिएन 5 राकेट से प्रक्षेपित किया गया है। 

isro ne French Guana se sanchar upgrih GSAT 31 ka kiya prakshepan
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने उपग्रह जीसैट 31 को परिष्कृत आई 2 के बस पर स्थापित किया। यह उपग्रह इसरो के पूर्व के इनसैट व जीसैट श्रेणी का उन्नत रूप है। यह उपग्रह अपनी कक्षा के उपग्रहों की संचालन संबंधी सेवाओं को जारी रखने के मदद के साथ साथ भारत के भू भाग और द्वीपों का कवरेज भी करेगा। इसरो के मुताबिक इस उपग्रह का प्रयोग सहायक वीसैट नेटवर्क, टेलीविजन अपलिंक्स, डिजिटल उपग्रह समाचार जुटाने, डीटीएच टेलीविजन सेवाओं, सेलुलर बैक हॉल संपर्क सरीखे तमाम कार्यो में किया जाएगा। अपने व्यापक बैंड ट्रांसपोंडर की मदद से यह उपग्रह अरब सागर, बंगाल की खाड़ी व हिन्द महासागर के विस्तृत समुद्री इलाको पर संचार की सुविधा के लिए विस्तृत बीम कवरेज उपलब्ध कराने में भी यह उपग्रह मददगार साबित होगा। 

isro ne French Guana se sanchar upgrih GSAT 31 ka kiya prakshepan
इसरो के मुताबिक कुछ दिनों बाद काम करना बंद करने वाले इनसैट-4सीआर की जगह लेने के लिए जीसैट 31 को प्रक्षेपित किया गया है यह 15 वर्षों तक काम करेगा। उपग्रहों का प्रक्षेपण करने वाली यूरोपीय कंपनी एरियन स्पेस के एरियन 5 यान से इसरो ने इस नवीनतम संचार उपग्रह बुधवार सुबह 2:31 बजे फ्रेंच गुयाना के स्पेसपोर्ट से सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया। जिसके 40 मिनट बाद यानी कि 3:14 मिनट पर उपग्रह जीसैट 31 को अपनी कक्षा में स्थापित कर दिया गया। 

यह भी पढ़े...मनमोहन सिंह से मिलने पहुंचे कपिल शर्मा, इस बड़े मुद्दे पर हुई बात

Web Title: isro ne French Guana se sanchar upgrih GSAT 31 ka kiya prakshepan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया