मुख्य समाचार
नई नवेली दुल्हन को प्रेमी संग रंगे हाथ पकड़ा तो ससुरालियों ने रख दी ये शर्त एग्जिट पोल वाले ट्वीट को लेकर अनुपम खेर ने की विवेक ओबेरॉय की आलोचना, ईशा गुप्ता बोलीं... COA ने किया ऐलान, 22 अक्टूबर को होंगे बीसीसीआई के चुनाव पिता से लगाई एक शर्त के बाद इस महिला ने 15 वर्षों में किए 600 पोस्टमार्टम यहां निकली बंपर भर्ती, जल्द करें आवेदन KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका
 

महागठबंधन को महामिलावट कहने वाले मिट जाएंगे पता नहीं चलेगा : अखिलेश यादव 


GAURAV SHUKLA 08/02/2019 14:23:35
785 Views

Lucknow. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में शुक्रवार(8 फरवरी) को किसान नेता अखिलेश कटियार, पूर्व विधायक शशिबाला पुंडीर, पूर्व एमएलसी अजय कुमार सिंह बागी, व्यापारी नेता रामबाबू रस्तोगी, एएमयू छात्रसंघ उपाध्यक्ष नदीम अंसारी, दीपक कुमार त्यागी ने पार्टी का दामन थामा। इन सभी को पार्टी की सदस्यता ग्रहण करवाई गयी। इस दौरान अखिलेश यादव ने न सिर्फ यूपी सरकार के बजट पर सवाल उठाए बल्कि महागठबंधन को लेकर उठ रहे सवालों का भी जवाब दिया। 

mahagathbandhan ko mahamilavat kahne vale mit jayenge
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा जो बजट पेश किया गया वह आंकड़ों का बजट देखने में काफी अच्छा है लेकिन जमीनी हकीकत से काफी दूर है। सरकार अपने उन सभी वायदों को भूल गयी है जो उसकने संकल्प पत्र के माध्यम से किये थे। जिन पुलिस के रिक्त पदों को भरने का वादा किया गया था उन्हें अभी तक भरा नहीं जा सका। हर जनपद में तीन महिला थानों का वादा किया गया था लेकिन उस पर भी कोई काम नहीं हुआ। बहने न्याय की गुहार लेकर सीएम आवास तक पहुंच रही हैं लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिल पा रहा। सरकार किसानों की आय 2022 तक दोगुना करने का ख्वाब दिखा रही थी लेकिन उस पर भी कोई काम नहीं हुआ। यहां तक कि जिन मंडियों का निर्माण कार्य चल रहा था उसे भी रोक दिया गया। मौजूदा सरकार पर हमलावर होते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि इन लोगों ने तो सूरज तक को धोखा देने में कोई कसर नहीं छोड़ी। सोलर प्लांट लगाने के जो वायदे किये गये थे वह पूरे न हो सके। इंन्वेस्टर समिट के माध्यम से जिन इन्वेंस्टमेंट की बात कही गयी थी उनका दस फीसदी भी इन्वेस्टमेंट यूपी में नहीं हो सका है। 

यह भी पढ़ें... श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड का हुआ पुनर्गठन
कुशीनगर और सहारनपुर में जहरीली शराब के कारण हुई मौतों पर अखिलेश यादव ने कहा कि ऐसा लगता है कि सरकार चाहती है कि शराब से और भी लोग मरें। सरकार को सब पता है कि कौन ऐसी शराब बना रहा है और इस अवैध कारोबार के सरकार ही जिम्मेदार है। लेकिन जिस तरह शराब पर टैक्स बढ़ाया जा रहा है उसे देखकर नहीं लगता है कि सरकार इन हुई मौतें से कोई सीख लेने के मूड में है। किसानों को राहत का वादा कर आई सरकार में कन्नौज के ही एक किसान के पास करोड़ों का बिल आ गया। वहीं सड़क आलू गिराने वालों के खिलाफ ऐसी धाराएं लगाईं गयी कि बड़े-बड़े वकीलों को भी पन्ने पलटने पड़ गये। ऐसी धाराएं तो अंग्रेजों के जमाने में ही लगाई जाती थी। 

mahagathbandhan ko mahamilavat kahne vale mit jayenge

लोकभवन में लगेगी प्रतिमा, संत से झूठ की उम्मीद नहीं 
बसपा सरकार में हुए घोटालों को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि मौजूदा सरकार में जो भी आरोप लग रहे हैं उसका जवाब वकील कोर्ट में देंगे। लेकिन इस समय भी लोकभवन में एक प्रतिमा का काम चल रहा है याद रहे की उसी के बगल में रामशरण दास भी प्रतिमा लगेगी। अखिलेश ने कहा कि जैसा की दावे किये जाते है कि पूर्व की सरकार में सिर्फ पांच जनपदों को ही बिजली मिलती थी अगर यह सच है तो सरकार आंकड़े पेश करें। हम सबसे बड़े मंदिर में एक संत से ऐसे झूठ की उम्मीद नहीं रखते हैं। 

mahagathbandhan ko mahamilavat kahne vale mit jayenge

Web Title: mahagathbandhan ko mahamilavat kahne vale mit jayenge ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया