मुख्य समाचार
रॉबर्ट वाड्रा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, ईडी ने अग्रिम जमानत निरस्त करने की मांग मोहनलालगंज में बसपा चौथी बार दूसरे स्थान पर डॉ. ओ.पी.चौधरी ने संभाला भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड के चेयरमैन का कार्यभार अपने बयान में फंसे सिद्धू, सोशल मीडिया पर हो रही जमकर खिंचाई सेवक के रूप में करूॅगी जनता की सेवा : साध्वी संसद तक पहुंचने में सफल हुई यह 11 महिलाएं करेंगी यूपी का नेतृत्व  दोबारा चुनाव जीतकर कौशल ने रचा इतिहास बाइक की टक्कर से साइ​किल सवार महिला की मौत, बेटी घायल शाकिब-अल-हसन का विश्व कप को लेकर आया बड़ा बयान गंभीर ने की राजनीतिक करियर की शुरुआत, इतने वाटों से दर्ज की जीत ऐसा हुआ तो आज़म खान लोकसभा की सदस्यता से खुद दे देंगे इस्तीफा! पुलिस ने किया लूट की वारदात से इंकार, आपसी रंजिश का गहराया शक  आजम खान का बड़ा बयान, तो दे दूंगा लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा भाजपा व मीडिया को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट पर मुकदमा दर्ज, अभियुक्त भेजा गया जेल FIFA World Cup: हो गया निर्णय 2022 टूर्नामेंट में खेलेंगी 32 टीमें बुंदेलखंड की सभी 4 सीटें भाजपा के खाते में 52 सीटों पर सिमटी कांग्रेस, अपनी पारम्परिक ​सीट से हाथ धो बैठे राहुल गांधी भाजपा के सहयोगी अपना दल (एस) ने उप्र की दो सीटों विजयी सुरक्षा बलों ने आतंकी सरगना मूसा को ढेर कर दिया पीएम मोदी की जीत का तोहफा भाजपा के लिए बिहार में बहार गिरीराज सिंह ने कन्‍हैया कुमार को पीछे छोड़ा नेवी में जाने का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन बंगाल में भाजपा की टीएमसी को तगड़ी टक्कर, फिलहाल टीएमसी बढ़त पर राजस्थान में कांग्रेस कॉन्फीडेंस को करारा झटका, भाजपा का 25 लोकसभा सीटों पर क्लीन स्वीप Lucknow Election Result Live : बड़ी बढ़त की ओर राजनाथ सिंह चुनाव नतीजे दिन अगर हुआ ये तो बंद होगा शेयर बाजार का कारोबार रायबरेली में कांग्रेस की सोनिया गांधी आगे, भाजपा को झटका Uttar Pradesh Election Result Live : यूपी की 80 सीटों में बीजेपी ने 59 पर बनाई बढ़त शुरूआती रूझानों में यूपी में गठबंधन को नहीं मिलती दिख रही आशातीत सफलता
 

सुप्रीम कोर्ट ने नागेश्वर राव को माना अवमानना का दोषी, सुनाई सजा


DEEP KRISHAN SHUKLA 12/02/2019 12:33:21
177 Views

New Delhi. सीबीआई के पूर्व अंतरिम निदेशक को सुप्रीम कोर्ट में अवमानना का दोषी मानते हुए उन पर एक लाख का जुर्माना लगाया। इसके साथ ही कोर्ट में कार्यवाही चलने तक उन्हें पीछे बैठे रहने के आदेश दिए। मालूम हो कि मुजफ्फरपुर के शेल्टर होम प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट जांच टीम में शामिल किसी भी अधिकारी के ट्रांसफर पर रोक लगा रखी थी। कोर्ट ने यह भी कहा था कि यदि आवश्यक हो तो अदालत की अनुमति लेकर ही किसी का ट्रांसफर किया जा सकता है। इसके बावजूद पूर्व अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव ने जांच टीम के अधिकारी एके शर्मा का सीबीआई से सीआरपीएफ में तबादला कर दिया था। 

supreme court ne nageswar rao ko mana avmanana ka doshi, sunai saja

 

सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवमानना के मामले में निदेशक नागेश्वर राव ने बिना शर्त सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगने के लिए सोमवार को कोर्ट में माफीनामा दाखिल किया था। इस अवमानना के मामले में सुनवाई के वक्त अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा कि राव अपनी गलती स्वीकार कर रहे हैं। उन्होंने यह जानबूझकर नहीं किया था। चीफ जस्टिस ने इस पर सवाल कहा कि कि अवमानना के आरोपी का बचाव सरकारी खर्च पर क्यों किया जा रहा है। चीफ जस्टिस ने नाराजगी जताते हुए कहा कि उन्हें पुराने आदेश के बारे में पता नहीं था तो उन्होंने कानूनी विभाग से राय क्यों मांगी। लीगल एडवाइजर ने कहा था कि एके शर्मा का ट्रांसफर करने से पहले सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर इजाजत मांगी जाए बावजूद इसके उन्होंने ऐसा नहीं किया। 

मंगलवार हुई अवमानना मामले की सुनवाई में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने उनके माफीनामे को नामंजूर कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किया कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले की जांच टीम में कोई परिवर्तन ​नहीं किया जाएगा। सीबीआई से सीआरपीएफ भेजे जा चुके अरुण शर्मा की अगुवाई में ही इस मामले की जांच होगी। सीजेआई ने नागेश्वर राव के साथ साथ एक अन्य अधिकारी एस. भसूरण पर एक लाख का जुर्माना लगाते हुए उन्हें कोर्ट की कार्रवाई तक पीछे बैठने के निर्देश दिए। कोर्ट की इस कार्रवाई का असर नागेश्वर राव के सर्विस रिकार्ड पर भी प्रतिकूल प्रभाव डालेगा, क्योंकि देश की सर्वोच्च अदालत की अवमानना के दोषी वे बन गए हैं।

यह भी पढ़े...चेन्नई के इस रेस्टोरेंट में इंसान नहीं रोबोट परोसते है खाना

Web Title: supreme court ne nageswar rao ko mana avmanana ka doshi, sunai saja ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया