मुख्य समाचार
स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था सेक्स रैकेट, इस तरह पुलिस ने किया पर्दाफाश मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को पार्टी से किया बाहर मौसी के घर आयी बच्ची का तालाब में उतराता मिला शव साढ़े छह लाख की शराब के साथ एसटीएफ के हत्थे चढे़ दो तस्कर 28वीं पुण्य तिथि पर याद किए गए पूर्व पीएम राजीव गांधी BSP की जगह BJP को वोट देना महिला को पड़ा भारी, पति ने फावड़े से काटकर की हत्या पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता  लोकसभा चुनाव खत्म होते ही बंद हुआ नमो टीवी, भाजपा ने दिए थे इतने लाख रुपए सीडीओ ने देवलान गौशाला का किया निरीक्षण बड़ा मंगल दे रहा है दस्तक, लखनऊ मेट्रो की सवारी कर बचें धूप और जाम से आजम खान के खिलाफ आचार संहिला उल्लंघन के 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल 12वीं पास को यहां नौकरी का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन आराध्या बच्चन ने अपने कमाल के डांसिंग मूवस से जीता सबका दिल, देखें वीडियो ...तो एडल्ट बैकग्राउंड पर शर्मिंदा होती सनी लियोनी? दिए चौंकाने वाले जवाब Exit Polls में कांग्रेस के लिए एक खुशखबरी Redmi Note 7s स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, जानें कीमत गर्लफ्रेंड गैब्रिएला के साथ मालदीव में छुट्टी बिता रहे हैं अर्जुन रामपाल, देखें तस्वीरें ...तो यूपी में बीजेपी का सूपड़ा हो जाएगा साफ, मायावती बनेंगी किंग मेकर! सिद्धू के पास एकमात्र विकल्प, इमरान खान की पार्टी कर लें ज्वाइन कुख्यात बदमाश ने दिल्ली पुलिस के सब इंस्पेक्टर को पीट-पीटकर मार डाला IAS बनने का है सपना, यहां फ्री में पाएं UPSC कोचिंग की सुविधा इस नियम को तोड़कर शिल्पा शेट्टी ने लिया इफ्तार पार्टी का मजा, शेयर किया वीडियो पाकिस्तानी बल्लेबाज आसिफ अली की बेटी की मौत, कैंसर का थी शिकार राज्यपाल ने ‘मधु अभिलाषा’ और ‘हिंद स्वराज्य का पुनर्पाठ’ पुस्तकों का किया विमोचन कांग्रेस अंतिम चरण की सात से ज्यादा लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करेगी: प्रवक्ता पाकिस्तान की दो बेटियों ने काशी में किया मतदान, बोलीं बेहतरीन है हिंदुस्तान
 

लखनऊ एयरपोर्ट प्रकरण, स्क्रिप्ट वही बस किरदार बदले


DEEP KRISHAN SHUKLA 13/02/2019 08:42 AM
80 Views

Lucknow. पूर्व सीएम अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने को लेकर सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक हंगामा मचा हुआ है। दोनों के ही समर्थक एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे है। घटना को लेकर एक ओर जहां विपक्ष एकजुट हो गया है वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग इसे योगी का हिसाब किताब चुकता करना बता रहे हैं। बता दें कि लखनऊ एयरपोर्ट पर बीते दिन हुई घटना तीन साल तीन महीने हुई घटना की ही पुनरावृत्ति है। बस फर्क इतना है कि कहानी तो हूबहू वैसी ही सिर्फ किरदार बदल गए हैं। उस समय अखिलेश यादव सीएम थे तब गोरखपुर से सांसद योगी आदित्यनाथ को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के इसी कार्यक्रम में जाने से रोक लिया गया था। 

Lucknow airport prakran, script vahi bas kirdar badle
पूरा वाकया समझाने के लिए आपको ठोड़ा फ्लैश बैक में ले चलते है। वर्ष 2015 में प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार थी और प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव थे। उस समय योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से सांसद थे। 20 नवंबर 2015 को उन्हें इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ समारोह में शामिल होने जाना था। योगी आदित्यनाथ का तब यूनिवर्सिटी में सपा की छात्र ईकाई के नेता विरोध कर रहे थे। कार्यक्रम के ठीक एक दिन पहले रात में ही डीएम और एसपी ने योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम को लेकर विश्वविद्यालय की ओर से कोई अनुमति न लिए जाने का दावा करते हुए उनके कार्यक्रम पर प्रतिबंध लगा दिया था। भारी विरोध के बाद भी योगी आदित्यनाथ इलाहाबाद यूनिवर्सिटी आने के लिए प्रयासरत थे लेकिन उन्हें वाराणसी में ही रोक लिया गया था। इसके बाद योगी आदित्यनाथ वहां से कड़ी सुरक्षा में मिर्जापुर पहुंचे और विंध्याचल में विंध्यवासिनी देवी के मंदिर में दर्शन-पूजन किया था। इस मामले के बाद योगी आदित्यनाथ ने प्रेस वार्ता कर उस समय की सपा सरकार की कार्रवाई की निंदा की थी और अपने मौलिक अधिकारों के हनन की बात कही थी।

Lucknow airport prakran, script vahi bas kirdar badle
योगी आदित्यनाथ के रोके जाने के पूरे तीन साल तीन महीने के बाद एक बार फिर प्रयागराज में वही स्थिति बनी है लेकिन इस बार के किरदार बदल गए। उस समय अखिलेश यादव मुख्यमंत्री थे और अब योगी आदित्यनाथ सीएम है। सबसे अहम बात यह है कि अखिलेश भी उसी यूनीवर्सिटी के उसी कार्यक्रम में जा रहे थे जहां कभी योगी आदित्यनाथ को जाने से रोका गया था। यह पूरा घटनाक्रम जानने और समझने के बाद लोग बरबस ही यह कह उठते हैं कि समय सबका आता है।
बीते दिन की गयी कार्रवाई को यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जायज ठहराते हुए कहा कि सपा प्रमुख अखिलेश के इलाहाबाद विश्वविद्यालय पहुंचने पर वहां पहले से ही छात्रगुटों में चल रहा तनाव बढने की आशंका थी लिहाजा उन्हें वहां जाने से रोका गया। जबकि अखिलेश यादव योगी आदित्यनाथ सरकार को इसका जिम्मेदार ठहराते हुए उसकी नीयत पर शक जाहिर किया और कहा कि भाजपा बदले की राजनीति कर रही है। 

Lucknow airport prakran, script vahi bas kirdar badle
इस मामले पर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव झूठ का सहारा ले रहे हैं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने तय किया था कि किसी भी राजनेता, राजनीतिक कार्यकर्ता और राजनीतिक पार्टियों से संबंधित व्यक्तियों को इस कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति नहीं है। 

यह भी पढ़े...राफेल डील में पीएम मोदी ने अंबानी के लिए बिचौलिए का काम किया: राहुल गांधी

Web Title: Lucknow airport prakran, script vahi bas kirdar badle ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया