मुख्य समाचार
KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था सेक्स रैकेट, इस तरह पुलिस ने किया पर्दाफाश मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को पार्टी से किया बाहर मौसी के घर आयी बच्ची का तालाब में उतराता मिला शव साढ़े छह लाख की शराब के साथ एसटीएफ के हत्थे चढे़ दो तस्कर 28वीं पुण्य तिथि पर याद किए गए पूर्व पीएम राजीव गांधी BSP की जगह BJP को वोट देना महिला को पड़ा भारी, पति ने फावड़े से काटकर की हत्या पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता  लोकसभा चुनाव खत्म होते ही बंद हुआ नमो टीवी, भाजपा ने दिए थे इतने लाख रुपए सीडीओ ने देवलान गौशाला का किया निरीक्षण बड़ा मंगल दे रहा है दस्तक, लखनऊ मेट्रो की सवारी कर बचें धूप और जाम से आजम खान के खिलाफ आचार संहिला उल्लंघन के 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल
 

एयरपोर्ट पर अखिलेश को रोके जाने का मामला : सपा-बसपा प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से की मुलाकात 


GAURAV SHUKLA 13/02/2019 11:48 AM
133 Views

Lucknow. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव को मंगलवार को एयरपोर्ट पर रोके जाने के मामले को लेकर सूबे में कई जगह हुए विवाद के बाद जमकर राजनीति देखने को मिली। मंगलवार को शुरु हुआ यह सिलसिला बुधवार सुबह भी जारी रहा। बुधवार को सपा-बसपा के 15 सदस्यों ने राज्यपाल राम नाइक को जाकर इस मामले से संबंधित ज्ञापन सौंपा। 

Airport par roke gae akhilesh rajyapal se milne pahucha sapa baspa deligation
मंगलवार को इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ के कार्यक्रम में सम्मिलित होने जा रहे अखिलेश यादव को कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक दिया गया था। अखिलेश को इस तरह रोके जाने के बाद सपा विधायकों का विरोध राजभवन के गेट से लेकर सड़कों तक देखने को मिला था। विरोध प्रदर्शन के बीच राज्यपाल द्वारा अगले दिन(बुधवार) का समय दिये जाने के बाद यह धरना समाप्त हुआ। हालांकि इस बीच कई जगह पुलिस और सपा कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प भी देखने को मिली थी। बता दें कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ में मंगलवार को ही इस कार्रवाई को जायज ठहराते हुए कहा था कि अखिलेश के इलाहाबाद विश्विद्यालय जाने से वहां छात्रों के गुटों के बीच चल रही तनातनी तेज होने की आशंका थी जिसके मद्देनजर उन्हें रोका गया। हालांकि बसपा सुप्रीमो ने इस घटनाक्रम को लेकर कड़े शब्दों में निंदा की थी। मायावती ने ट्वीट कर लिखा था कि, "समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को आज इलाहाबाद नहीं जाने देने कि लिये उन्हें लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक लेने की घटना अति-निन्दनीय व बीजेपी सरकार की तानाशाही व लोकतंत्र की हत्या की प्रतीक।" उन्होंने आगे लिखा कि, "क्या बीजेपी की केन्द्र व राज्य सरकार बीएसपी-सपा गठबंधन से इतनी ज्यादा भयभीत व बौखला गई है कि उन्हें अपनी राजनीतिक गतिविधि व पार्टी प्रोग्राम आदि करने पर भी रोक लगाने पर वह तुल गई है। अति दुर्भाग्यपूण। ऐसी आलोकतंत्रिक कार्रवाईयों का डट कर मुकाबला किया जायेगा।"

Airport par roke gae akhilesh rajyapal se milne pahucha sapa baspa deligation

Web Title: Airport par roke gae akhilesh rajyapal se milne pahucha sapa baspa deligation ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया