मुख्य समाचार
पश्चिम बंगाल में किशोर सहित दो लोगों की मौत, भड़की हिंसा रेलवे भर्ती बोर्ड इस तिथि को जारी करेगा सीबीटी का एडमिट कार्ड गरीब की जमीन से कब्जा हटाने में लग रहे महीनों भविष्य के आर्यावर्त का असली चेहरा दिखाती है वेब सीरीज 'लैला' अधिकारी के फार्म हाउस पर दुष्कर्म मामले में अखिलेश समेत 7 गिरफ्तार, मुलायम और बाउंसर अभी भी फरार  लखनऊवासियों को ख़ूब रास आ रहे मेट्रो के सोवनियर आइटम्स निलंबित कोटेदार की दुकान निरस्त करने की जिलाधिकारी से मांग देह व्यापार की सूचना पर पहुंची पुलिस तो चौंकाने वाला हुआ खुलासा मेट्रो स्टेशन पर युवती को देख युवक करने लगा मास्टरबेट, तमाशा देखते रहे लोग ओडिशा: इस दिन जारी होगा CHSE+2 का परिणाम, शिक्षामंत्री ने की घोषणा वृहद कुक्कुट एवं लघु पशु एक दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजन 20 को 91 हजार करोड़ कर्ज घोटाले में ED की गिरफ्त में दो बड़े ऑफिसर, मामले की पहली गिरफ्तारी यूपी में अपराधों की बाढ़ के बावजूद भाजपा सरकार के कानों पर नहीं रेंग रही जूं : अखिलेश टीम इंडिया को झटका, धवन पूरे वर्ल्ड कप से बाहर, ऋषभ पंत हुए शामिल अमेठी: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धूम-धाम से मनाया राहुल गांधी का जन्मदिन एरिया कमांडर समेत 4 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण हाईवे किनारे जड़ी बूटियां उगाकर यूपी सरकार सुधारेगी लोगों का स्वास्थ्य  लखनऊ: सीएम योगी ने लेखपालों को बांटे लैपटॉप लखनऊ में गर्मी का कहर, राज्य में 23 जून तक नहीं चलेंगे स्कूल अर्जुन पटियाला का पोस्टर्स हुआ रिलीज,फिल्म मे दिलजीत-कृति मुख्य भूमिका में पहली बार सांसद बने सनी देओल से हुई बड़ी चूक, जा सकती है लोकसभा की सदस्यता  सीवर सफाई करने चैंबर में उतरे दो कर्मचारी गैस से अचेत होकर डूबें, मौत नेहा धूपिया के चैट शो में पहुंची परिणीति चोपड़ा और सानिया मिर्जा गरीब मजदूर की मजदूरी नहीं दिला पा रही मलिहाबाद पुलिस इयोन मोर्गन ने तोड़ डाला छक्कों का सबसे बड़ा रिकॉर्ड, एक पारी में लगा दिए इतने छक्के संभल में भीषण सड़क हादसा, दो बच्चों समेत आठ की मौत सपा सांसद ने नहीं लगाया वंदे मातरम का नारा तो अखिलेश ने कह दी चौंकाने वाली बात मोदी सरकार ने किये ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों में संशोधन, जानिए क्या है नियम? परिवहन मंत्री ने बांटे हेल्मेट, लोगों को किया जागरूक धर्मांतरण के विरोध में विहिप ने डीएम को सौंपा ज्ञापन महिला अपनी ताकत को पहचाने और समाज को यह संदेश दें कि नारी अबला नहीं अब सबला है : अनुपमा जायसवाल याचिका दायर कर पाकिस्तान की क्रिकेट टीम को बैन करने की मांग दलित हत्या मामले बहन जी के करीबी नेता को अखिलेश ने सौंपी अहम जिम्मेदारी प्रत्येक विकास खण्ड की दो पंचायतों को आदर्श पंचायत के रूप में विकसित किया जाय
 

गजब का जज्बा, 85 की उम्र में पढ़ाई 


DEEP KRISHAN SHUKLA 18/02/2019 14:17:47
58 Views

Lucknow. पढ़ने लिखने की कोई उम्र नहीं होती यह बात आपने अक्सर लोगों से सुनी होगी, लेकिन इसका जीता जागता उदाहरण शायद ही आपने कभी देखा होगा? लखनऊ की रहने वाली लक्ष्मी श्रीवास्तव ने लोगों की यह ख्वाहिश पूरी की है। 

gajab ka jajba, 85 ki umra me padhai
85 वर्ष की यह वृद्ध महिला उम्र का हवाला देकर पढ़ाई से मुंह चुराने वालों के नजीर बन गयी है। उन्होंने इग्नू की परीक्षा देने के लिए अपना दाखिला कराया है। अपने अब तक के ​जीवन में उन्होंने 1955 में आखिरी दफा परीक्षा दी थी। इसके दशकों बाद एक बार फिर वह परीक्षा की तैयारी हैं। 

gajab ka jajba, 85 ki umra me padhai
उम्र का वह पड़ाव जहां आकर लोग अपनी जिन्दगी की खामियों पर या तो अफसोस जाहिर करते है या फिर अपनी योजनाओं व उपलब्धियों पर संतोष जाहिर करते है वह बुढ़ापा कहलाता है। ज्यादातर लोग इस दरम्यान या तो ईश्वर की भक्ति में लीन होकर अपना अगला जन्म सुधारने में जुट जाते हैं वहीं कुछ ऐसे भी होते है इस दौर में भी रहे सहे सपनों को पूरा करने की नाकाम कोशिश कर रहे होते है।

gajab ka jajba, 85 ki umra me padhai  
ऐसे समय में लक्ष्मी श्रीवास्तव ने इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी से फूड प्रो​सेसिंग व न्यूट्रीशन के प्रमाणपत्र के लिए आवेदन किया है। महानगर के ओल्ड एज होम में रहने वाली लक्ष्मी को अब कोर्स से संबंधित सामग्री का इंताजर है। 
इग्नू के अधिकारी के मुताबिक सरकारी स्कूल से सेवानिवृत्त प्रधानाचार्या उनकी यूनिवर्सिटी के सर्टिफिकेट कोर्स में दाखिला लेने वाली प्रदेश की सबसे बुजुर्ग महिला है। उम्र के इस पड़ाव में कोर्स में दाखिला लेने के बाबत लक्ष्मी का कहना है कि इस कोर्स को करने के बाद उनकी जानकारी और बढ़ेगी। स्वस्थ्य जीवन जीने के लिए सही खानपान बेहद जरूरी है। यह प्रशिक्षण मुझे अच्छी जिंदगी गुजारने में मददगार शाबित होगा।

 gajab ka jajba, 85 ki umra me padhai
ओल्ड एज होम में रहने वाली लक्ष्मी यूं तो संस्कृत और भूगोल विषयों की मास्टर्स डिग्री धारक हैं। उनके मन में यह कोर्स करने का विचार तब आया इग्नू के कुछ अधिकारियों ओल्ड एज होम प्रवास के दौरान कुछ पाठ्यक्रमों की जानकारी दी। 


इग्नू के क्षेत्रीय केन्द्र की सहायक निदेशक कीर्ति विक्रम सिंह के अनुसार लक्ष्मी ने यह बात सिद्ध कर दी है कि पढ़ने लिखने की कोई उम्र नहीं होती। उन्होंने बताया कि 1955 में अपनी शिक्षा पूरी करने वाली लक्ष्मी श्रीवास्तव 1992 में अपनी सेवा पूरी की। उनका यह निर्णय ओल्ड एज होम में रहने वालों के साथ सभी बुजुर्गों के लिए एक नजीर है। 

यह भी पढ़े...लखनऊ: भजन संध्या से झूम उठी रविवार की शाम

Web Title: gajab ka jajba, 85 ki umra me padhai ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया