मुख्य समाचार
बाढ़ और बारिश से बेस्वाद हुई दाल, टमाटर हुआ लाल, इन सब्जियों के बढ़े 50 फीसदी दाम मॉब लिंचिंग पर सपा सांसद का बड़ा बयान, कहा- पाकिस्तान न जाने की सजा भुगत रहे हैं मुसलमान अब इस दिग्गज ने की प्रियंका के नाम की वकालत बाढ़ से बेहाल असम-बिहार, ताजा तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर पीड़ितों ने कौन सा अपराध किया जो उन्हें मुझसे मिलने से रोका जा रहा : प्रियंका AKTU : यूपीएसईई – 2019 की काउंसलिंग का तीसरा चरण आज से शुरु ICC के फैसले से सदमे में जिम्बाब्वे की टीम प्लेसमेंट ड्राइव में 5 से 7 लाख के पैकेज के साथ आई कंपनी, 120 छात्र-छात्राओं ने किया प्रतिभाग मंचीय कविता के आखिरी स्तम्भ थे नीरज : लक्ष्मी नारायण चौधरी एजाज खान के अरेस्ट होने के बाद ट्वीटर पर छाए मीम्स- यूजर्स बोले... ग्रामीण क्षेत्रों में भी किया जाना चाहिए मैंगो फूड फेस्टिवल का आयोजन : डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा तेजबहादुर की याचिका पर पीएम मोदी को नोटिस हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा
 

AKTU में सीएम योगी : 21 परियोजनाओं का किया लोकार्पण, रोजगार पोर्टल का हुआ शुभारम्भ


GAURAV SHUKLA 22/02/2019 15:09 PM
131 Views

AKTU ME CM YOGI ROJGAR PORTAL KA KIYA SUBHARAMBH

Lucknow. प्रदेश की राजधानी लखनऊ में डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी में सीएम योगी आदित्यनाथ ने 21 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसके साथ ही 250 नवनियुक्त शिक्षकों के साथ संवाद, लैपटॉप वितरण और रोजगार पोर्टल का शुभारंभ किया। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश सरकार के मंत्री आशुतोष टंडन गोपाल, प्राविधिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह, कुलपति एकेटीयू विनय कुमार पाठक, कुलपति हरकोर्ट बटलर यूनिवर्सिटी कानपुर प्रो. एनबी सिंह भी मौजूद रहे। 

AKTU ME CM YOGI ROJGAR PORTAL KA KIYA SUBHARAMBH

कार्यक्रम के दौरान सीएम ने दोबारा एकेटीयू में आने पर खासा खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ जून 2017 में एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के न्यू कैंपस में आने का सौभाग्य मिला था। उन्होंने कहा कि डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने देश को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र को आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। वह खुद ही इस विश्वविद्यालय के लिए योग्य आदर्श हैं। हम सभी उस संस्थान में हैं, जिस पर प्रदेश के अंदर योग्य टेक्नीशियन देने की अहम जिम्मेदारी है। 

सीएम योगी ने कहा कि पूर्व में विश्वविद्यालयों में 25-25 वर्षों से फैकल्टी की तैनाती नहीं हो पाई थी। नियुक्ति की प्रक्रिया न्यायालिक बाधा या संस्थान की अव्यवस्था का शिकार हो जाती थी, जिसका प्रभाव योग्य छात्र-छात्राओं पर पड़ता था। उन्हें अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने के लिए अनुकूल अवसर नहीं मिल पाता था। योगी ने कहा कि क्वालिटी ऑफ एजुकेशन पर काफी चर्चा होती है, लेकिन यह सवाल हमेशा रहता था कि क्या वास्तव में हमने कभी शिक्षा जगत से जुड़ी समस्याओं का ईमानदारी से समाधान करने की दिशा में काम किया। 

सीएम योगी ने ने कहा कि उन्होंने एक बार एक तकनीकि संस्थान के 20 छात्र-छात्राओं को उनकी योजनाओं के बारे में जानने के लिए बुलाया, जिसके बाद उन्होंने पाया कि 20 में से सिर्फ 2 बच्चे सरकारी नौकरी के माध्यम से आगे जाना चाहते हैं, जबकि 18 छात्र-छात्राओं ने खुद के स्टार्टअप और एनोवेटिव आइडिया की बात कही। 

AKTU ME CM YOGI ROJGAR PORTAL KA KIYA SUBHARAMBH

सीएम बनने के बाद कुम्भ का आयोजन बड़ी चुनौती 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम जल को जीवन का आधार मानते हैं, लेकिन आज किसी भी नदी का जल आचमन तो दूर स्नान के लायक भी नहीं है। आज हम सभी अनावश्यक चीजों को नदी में बहा देते हैं, जिसके चलते हर वर्ष मौत का लंबा सिलसिला प्रारम्भ हो रहा है। इसे हम नियंत्रित कर सकते हैं, लेकिन उसके लिए संस्थानों को आगे आकर कदम उठाने की जरूरत है। 

योगी ने कहा कि सीएम बनने के बाद 2019 में होने वाले कुम्भ का आयोजन उनके लिए बड़ी चुनौती थी। यह चुनौती थी कि कुम्भ में लोग पर्यटन के लिए नहीं बल्कि तीर्थ के लिए आते हैं। पूर्व में 2013 में मॉरिशस के पीएम ने संगम पर जाकर स्नान करने की जगह गंदगी देख स्नान से इंकार कर दिया था। एक भारतवंशी देश के गौरव को बढ़ा रहा हो और देश विदेश से लोग आएं और हम उन्हें अनुकूल वातावरण न उपलब्ध करवा पाएं तो यह शर्म की बात है। इसी चुनौती को लेकर सीएम ने लोगों को बुलाया और कहा कि इस बार लोगों का फोकस मुझ पर होगा जो अविरलता का संदेश दिया जा रहा है, वह दिखना चाहिए। 

AKTU ME CM YOGI ROJGAR PORTAL KA KIYA SUBHARAMBH

योगी ने कहा कि टीम ने काम किया, लेकिन 2018 में वह भी पस्त होते नजर आए। जब टीम ने कठिनाइयां बताईं तो मुझे भी चुनौती लगी, लेकिन युद्धस्तर पर टाईमफ्रेम तय किया और काम किया। प्रवाह में ही गंगा जी के जल को साफ करने की तकनीकि पर विचार किया गया, कार्रवाई शुरु हुई और इसके बाद अब तक कुम्भ में 21 करोड़ लोग स्नान कर चुके हैं। इसमें भी कोई नहीं कह सकता कि गंगा का जल बदबूदार या अशुद्ध है। 

Web Title: AKTU ME CM YOGI ROJGAR PORTAL KA KIYA SUBHARAMBH ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया