देशी ही नहीं विदेशी संपत्ति भी बताएगें नेता जी


DEEP KRISHAN SHUKLA 02/03/2019 10:31:33
109 Views

Lucknow. लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारी में जुटे माननीय बनने बनने का सपना देखने वालों के लिए एक बुरी खबर है। इसकी वजह है चुनाव आयोग का नया नियम। चुनाव आयोग ने नए नियम के तहत फार्म 26 में लगाए जाने वाले शपथ पत्र के प्रारूप में परिवर्तन किया गया है। इस नियम के चलते अब प्रत्याशियों को न सिर्फ देश की बल्कि विदेशी संपत्ति का भी ब्योरा प्रत्याशियों को देना होगा। 

DEshi hi nahi videshi sampatti bataenge neta ji
लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियां जोरों पर चल रही है। राजनैतिक दल जहां अपने कील कांटे दुरूस्त करने में जुटे हैं वहीं चुनाव आयोग भी निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने की तैयारियों को अंतिम रूप दे रहा है। 
इसी सिलसिले में चुनाव आयोग की टीम पिछले तीन दिनों से लखनऊ में प्रदेश की तैयारियों की समीक्षा कर रही है। 
शुक्रवार मीडिया से मुखातिब हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि नामांकन के दौरान प्रत्याशियों द्वारा दिए जाने वाले फार्म 26 में कुछ बदलाव किए गए है जो इसी चुनाव से लागू होगें। 
नए प्रारूप में प्रत्याशी को अपने पति/पत्नी, आश्रित पुत्र/पत्नी और परिवार की पांच साल की आय का ब्योरा देना होगा। बता दें कि अभी तक एक वर्ष की आय का ही ब्योरा दिया जाता था।

इसके अलावा दूसरा जो अहम बदलाव हुआ है उसके तहत प्रत्याशी को अपनी विदेशी संपत्ति का भी विवरण भी पैन सहित देना होगा। 
पूर्व की भांति आयकर विभाग प्रत्याशियों के शपथपत्रों की जांच करेगा। अगर कहीं भी कोई गड़बड़ी मिलती है तो इसकी रिपोर्ट चुनाव आयोग की वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी। 
यदि कोई प्रत्याशी किसी तरह के तत्थ छिपाने का दोषी पाया जाता है तो चुनाव आयोग उस पर नियमानुसार कार्रवाई करेगा। 

DEshi hi nahi videshi sampatti bataenge neta ji
  हर बूथ पर होगी वीवीपैट
चुनाव को पूरी तरह पारदर्शी बनाने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम आयोग ने इस बार उठाया है। 
इसके तहत हर बूथ पर ईवीएम के साथ साथ वीवीपैट मशीन का प्रयोग किया जाएगा।

मतदाता मतदान के समय यह देख सकेगा कि उसका मतदान वांछित पार्टी अथवा प्रत्याशी को गया है कि नहीं। 
मालूम हो कि विभिन्न राजनैतिक दल ईवीएम पर उंगली उठाते रहते हैं इस दिशा में आयोग की यह एक अच्छी पहल होगी। 

DEshi hi nahi videshi sampatti bataenge neta ji
  गड़बड़ी की शिकायत के लिए सी-विजिल ऐप 
मतदान में किसी प्रकार की गड़बड़ी होती है तो इसकी शिकायत सी-विजिल ऐप के जरिए की जा सकेगी। 
चुनाव मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि इस ऐप के जरिए चुनाव खत्म होने के अगले दिन तक कोई नागरिक शिकायत दर्ज करा सकता है। 
खास बात यह है कि से जुड़े किसी तथ्य जैसे कि जैसे फोटो या 2 मिनट तक ​वीडियो भी ऐप पर अपलोड किया जा सकता है। 
इस शिकायत पर की कार्रवाई की जानकारी यूनीक आईडी के जरिए शिकायकर्ता को मिल जाएगी इसके अलावा अगले दिन मीडिया के जरिए भी कार्रवाई की जानकारी मिल जाएगी। 
सुनील अरोड़ा में शिकायत पर 100 मिनट का रेस्पॉन्स टाइम रखा गया है। इस ऐप का प्रयोग कर्नाटक चुनाव में किया गया था जिसमें 27 हजार शिकायते मिली थी। 

यह भी पढ़े...भारत-पाक तनाव के बीच चुनाव आयोग ने की बड़ी घोषणा

 

Web Title: DEshi hi nahi videshi sampatti bataenge neta ji ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया