स्टेडम सेल ट्रांसप्लांाट के जरिये हो एडस फ्री


JAGDISH KUMAR 06/03/2019 14:05:12
190 Views

एड्स एक ऐसी बीमारी है जिसके बारे में सुनते ही हम सहम जाते हैं और जिसको जो भी इससे ग्रस्त होता हैं उससे दुरी बना लेते है क्युकी हम सोचने लगते हैं कि इसका कोई इलाज नहीं हिं और रोगी के हमारे पास रहने या बात करने मरता से हम भी उसके शिकार हो सकते हैं.

AIDS free only through stem cell transplant

अब ऐसा कुछ नहीं होगा क्युकी इसका सही इलाज हो चुका हैं, आपको बता दे लन्दन के एक  शख्‍स को स्‍टेम सेल ट्रांसप्‍लांट के जरिए सफलतापूर्वक एड्स वायरस से मुक्‍त करा लिया गया है। इस रोगी को 2003 में पता चला था कि वह एचआईवी से ग्रस्‍त है लेकिन उसने 2012 में इस इन्‍फेक्‍शन का इलाज कराना शुरू किया था। उसे 2012 में Hodgkin lymphoma नाम का कैंसर हुआ जिसका 2016 में स्‍टेम सेल ट्रांसप्‍लांट के जरिए इलाज शुरू हुआ। उसके कैंसर का इलाज करने वाले डॉक्‍टरों को स्‍टेम सेल का ऐसा डोनर मिला जिसके शरीर में एक ऐसा दुर्लभ जीन म्‍यूटेशन हुआ था जो प्राकृतिक तौर पर एचआईवी के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता मुहैया कराता है। यह जानकारी होने पर डॉक्‍टरों को लगा कि कैंसर के साथ-साथ इसके एचआईवी का भी इलाज हो जाएगा। यह जीन म्‍यूटेशन उत्‍तरी यूरोप में रहने वाले महज एक प्रतिशत लोगों में होता है। यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के शोधकर्ता रविंद्र गुप्‍ता का कहना है, 'ऐसा जीन मिलना लगभग असंभव घटना है।'

आमतौर पर दवा बंद करने के दो से तीन हफ्तों में वायरस फिर सक्रिय हो जाता है। लेकिन लंदन के मरीज के साथ ऐसा नहीं हुआ। दवा बंद करने के 18 महीनों के बाद भी उसके शरीर में एड्स वायरस नहीं पाया गया। इस ट्रांसप्‍लांट से लंदन के इस पेशेंट की पूरी प्रतिरक्षा प्रणाली ही बदल गई जिससे डोनर की ही तरह उसका शरीर भी बंद कर दीं ताकि यह देखा जा सके कि कहीं एड्स वायरस फिर से तो सक्रिय नहीं हो जाएगा।एचआईवी वायरस के खिलाफ बेअसर हो गया। इसके बाद इस मरीज ने स्‍वेच्‍छा से एचआईवी की दवाएं लेना बंद कर दीं ताकि यह देखा जा सके कि कहीं एड्स वायरस फिर से तो सक्रिय नहीं हो जाएगा।

यह भी पढ़े...टिकट बंटवारे पर मायावती का सबसे बड़ा मास्टर प्लान, बनी ये खास रणनीति

 

Web Title: AIDS free only through stem cell transplant ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया