अपने ही विभाग की मनमानी रोकने के लिए नगर निगम ने लगाया सिक्योरिटी गार्ड


LEKHRAM MAURYA 13/03/2019 11:40:56
25 Views

LUCKNOW.दुबग्गा से सीतापुर बाईपास रोड पर गोमती किनारे वर्षों से पड़ने वाले कूड़े के कारण आप पास एक किलोमीटर तक का पानी प्रदूषित हो गया है। जांच मे ऐसी जानकारी प्रकाश में आने के बाद नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने प्रदेश सरकार के नगर विकास विभाग पर शिकंजा कसते हुए इस क्षेत्र में कूड़ा डालने पर रोक लगाने का आदेश दिया। जिसके बाद नगर निगम लखनऊ ने एक विभाग को इस स्थान पर कूड़ा डालने से रोकने के लिए सुरक्षा गार्ड लगा रखा है।

 Security guard guarded by municipal corporation to prevent arbitrariness of its own department

स्वास्थ्य की परवाह किये बिना कूड़े की सुरक्षा में लगे सुरक्षा गार्ड
परफेक्ट सिक्योरिटी नाम की एजेंसी के 32 गार्ड यहां रात दिन कूड़े के ढेर पर फिर से कोई कूड़ा न डालने पाए, इसलिए यह गार्ड हमेशा कूड़े के ढेर के किनारे कुर्सी डालकर सुरक्षा करते देखे जा सकते हैं। सुरक्षा गार्ड दीपक राठौर,संतराम वर्मा ने कहा कि वह यहां 12 घंटे की ड्यूटी करते हैं। 

 Security guard guarded by municipal corporation to prevent arbitrariness of its own department

संदीप यादव ने बताया कि पीएस एण्ड पीएस नाम की सिक्योरिटी उनको 12 घंटे के 8 हजार रूपये देती है। बेरोजगारी के इस दौर मे वह यहां ड्यूटी कर रहे हैं। गार्डों ने कहा कि उनके स्वास्थ्य की गारंटी न नगर निगम के पास है और न ही एजेंसी के पास।  

गार्डों ने बताया कि नगर निगम को मोहान रोड पर कूड़े से खाद बनाने वाले प्लांट पर कूड़ा डालने का आदेश है फिर भी दूर होने के कारण कभी- कभी यहां आ जाते हैं। चार दिन पहले एक ट्रक कूड़ा लेकर यहां डालने आया था उससे पूछा कि यहां मना है तो यहां कूड़ा लेकर क्यों आए हो तो उसने कहा कि यहां तिरपाल उतार रहे हैं कूड़ा कैटिल कालोनी के पास डालेंगे। इस तरह पता चला कि अभी भी नगर निगम अपने ही विभाग के कर्मचारियों से इसका पालन नहीं करा पा रहा है।

Web Title: Security guard guarded by municipal corporation to prevent arbitrariness of its own department ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया