दंतेवाड़ा के नक्सली हमले में शहीद हुआ उन्नाव का लाल


DEEP KRISHAN SHUKLA 19/03/2019 09:19:32
122 Views

Unnao. छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों के हमले में उन्नाव का एक लाल शहीद हो गया।शहादत की खबर मिलते ही परिवारों वालों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। यह खबर शहर में फैलते ही शहरवासी भी गमगीन हो गए। डीएम और एसपी समेत तमाम प्रशासनिक अधिकारियों ने शहीद के घर पहुंच कर परिजनों को सांत्वना दी। मालूम हो कि 32 दिन पहले पुलवामा हमले में शहर के अजीत कुमार शहीद हुए थे। उनकी शहादत के गम से लोग अभी उबर भी नहीं पाए थे कि एक और लाल के प्राणों की आहूति की खबर आ गयी।  

Dantewada ke Naksali Hamle Me Shaheed Hua Unnao Ka Lal
मूल रूप में माखी थाना क्षेत्र बेलसी गांव के रहने वाले शशिकांत तिवारी(42)पुत्र स्व. शिवसागर तिवारी का परिवार शहर के मोहल्ला कब्बाखेड़ा में रहता है। शशिकांत सीआपीएफ जवान थे जो पिछले तीन सालों से छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा 221वीं बटालियन में तैनात थे। सोमवार की शाम दंतेवाड़ा के अरनपुर थाना क्षेत्र के कोंडासांवली और कमलपोस्ट के बीच नक्सलियों के आईडी ब्लास्ट में शशिकांत शहीद हो गए जबकि इस हमले में पांच अन्य जवान घायल हुए हैं। उनकी शहादत की खबर पहुंचते ही होली की खुशियों में डूबे परिवार में मातम का सन्नाटा छा गया। हेडक्वाटर से इसकी खबर शहीद की पत्नी अनीता को जैसे ही फोन पर मिली तो फफक पड़ी। वहीं दूसरी ओर माखी थाना पुलिस उनके मूल निवास बेलसी पहुंची तो गांव में भी शोक की लहर दौड़ गई। पति की मौत के बाद अब बड़े बेटे को खोने के सदमे से मां सुधा बेहाल हो गईं। 

Dantewada ke Naksali Hamle Me Shaheed Hua Unnao Ka Lal
  नोएडा में होनी थी नई तैनाती
शहीद शशिकांत का ट्रांसफर दो माह पहले नोएडा हो गया था। उसकी मां सुधा तिवारी ने बताया कि बेटे ने बताया था कि उसका ट्रांसफर हो गया है। जल्द ही वह नई तैनाती स्थल नोएडा पहुंच जाएगा। लेकिन नियति को शायद कुछ और ही मंजूद था। 
  चार भाईयों में सबसे बड़े थे
शहीद शशिकांत के पिता पुलिस विभाग में सिपाही पद पर तैनात थे उनकी मौत 2007 में हो गयी थी। शशिकांत चार भाइयों में सबसे बड़ा था। शशिकांत के छोटे भाई विष्णुकांत पुलिस विभाग में उपनिरीक्षक है। दो अन्य भाइयों में मनीष कानपुर और सबसे छोटा आशीष उत्तराखंड़ में प्राइवेट नौकरी करता है। 

Dantewada ke Naksali Hamle Me Shaheed Hua Unnao Ka Lal
  16 जनवरी को घर आए थे शशिकांत
छत्तीसगढ से पहले शशिकांत की तैनाती दिल्ली के संसद भवन में थी। उस दौरान वह पत्नी अनीता व दो बच्चों 16 वर्षीय देवांश और 7 वर्षीय रिषिका के साथ सरकारी क्वार्टर में रहते थे।बच्चे दिल्ली सेंट्रल स्कूल में पढ़ते हैं। 23 फरवरी को शशिकांत की पत्नी अनीता की भतीजी की शादी में शामिल होने आयी थी। शशिकांत बीती 16 जनवरी को शशिकांत पत्नी बच्चों के साथ पहले घर कब्बाखेड़ा आए फिर पत्नी को ससुराल छोड़कर दोबारा घर आ गए 23 जनवरी को वह फिर ससुराल गए फिर वहां से दिल्ली। 31 तारीख को वह वापस ड्यूटी के लिए दंतेवाड़ा गए थें।  

यह भी पढ़े...पाकिस्तान ने सीजफायर किया उल्लंघन,गोलीबारी से एक जवान शहीद 6 घायल

 

 

 

Web Title: Dantewada ke Naksali Hamle Me Shaheed Hua Unnao Ka Lal ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया