मुख्य समाचार
राम मंदिर का जल्द से जल्द निर्माण है अयोध्या आने का मकसद: उद्धव ठाकरे सीतापुर में भीषण सड़क हादसा, ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार दो युवकों की मौत न्यूजीलैंड में आया 7.2 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 5-1 से हराकर FIH सीरीज़ का फाइनल जीता Air India में नौकरी का सुनहरा मौका, नहीं देनी होगी लिखित परीक्षा इस दिन जारी होंगे UP Polytechnic के परीक्षा परिणाम पति करता था परेशान, पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर उठाया खौफनाक कदम पश्चिम बंगालः डॉक्टर्स की हड़ताल खत्म होने के आसार एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत पाकिस्तान ने दी पुलवामा में संभावित आतंकी हमले सूचना, घाटी में हाई अलर्ट भारत-पाक महामुकाबले पर बारिश का खतरा बरकरार मिस इंडिया 2019: सुमन राव ने जीता खिताब, शिवानी रहीं फर्स्ट रनर अप रेल यात्रियों को सफर में मसाज सेवा देने की योजना पर लगा ग्रहण, जानिए क्या रही वजह
 

हथौडा की बारात से प्रयागराज में होली पर्व की शुरुआत


SUJEET KUMAR 20/03/2019 14:09:44
46 Views

Lucknow. होली की मस्ती के जितने रंग है उतनी ही अनोखी हैं इसे मनाने की परम्पराएं भी और उन्ही परंपराओं में से एक प्रयागराज की हथौड़े की बारात जो होली के मौके पर एक खास आकर्षण का केंद्र बनती हैं। अनूठी परंपरा वाली इस शादी में दूल्हा होता है एक भारी-भरकम हथौड़ा, इसके बाद हथौड़े की बारात निकालने से पहले होता है कद्दू भंजन। शहर की गलियों में जैसे दूल्हे राजा की भव्य बारात निकाली जाती है ठीक वैसे ही हथौड़े की भी बैंड बाजे के साथ बारात निकाली जाती है।

 Prayagraj celebrates Holi festival with Hathoda barat  

देश को इस हथौड़े की शादी से बुराइयों को खत्म करने का संदेश दिया जाता है। वहीं संगम नगरी में इसी के साथ शुरू हो जाती है रंगपर्व होली।

बुधवार को इसी परंपरा के तहत हथौड़े की बारात निकाली गई। जिसमें शादी के लिबाज में सजे दूल्हे राजा को किसी की नज़र न लगे, इस लिए दूल्हे राजा की नज़र उतारी गई। 

यह भी पढ़ें...होली में कैसे करें सही कलर की पहचान

होली पर होने वाली इस शाही में सैकड़ो बाराती भी शामिल हुए, जो रास्ते भर मस्ती में मगन होकर नाचते हुए हथौड़े की बारात में चलते रहे।

इस हथौडा की बारात में वही भव्यता देखने को मिली जो कि किसी शाही शादी में देखने को मिलती है। दूल्हा बने हथौड़े की बारात अगर बेहद भव्यता के साथ निकली तो वहीं दुल्हन कद्दू की डोली शोर व हंगामे के बिना ही विवाह स्थल तक पहुंची और कद्दू भंजन हुआ। 

 Prayagraj celebrates Holi festival with Hathoda barat

बता दें कि सदियों से चली आ रही इस परम्परा के मुताबिक़ हथौड़े और कद्दू का मिलन शहर के बीचो-बीच हजारों लोगों की मौजूदगी में कराया जाता है इसका मकसद समाज मे फैली कुरीतियों को खत्म करना है और लोगों के मुताबिक इसी हथौड़े से आतंक का भी अंत होगा। इस अनूठी शादी के साथ ही प्रयागराज में होली की औपचारिक तौर पर शुरूआत भी हो जाती है। 

 

 

Web Title: Prayagraj celebrates Holi festival with Hathoda barat ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया