अमेरिका ने लगाया चीन और उत्तरी कोरिया कंपनी पर प्रतिबंध


JAGDISH KUMAR 23/03/2019 12:17:45
78 Views

New Delhi. अमेरिकी राष्‍ट्रपति और उत्तर कोरिया के बीच हनोई में हुई वार्ता विफल होने के बाद अब स्थितियां और भी बदल गई। इस वार्ता के बाद अमेरिका ने पहली बार उत्तर कोरिया के खिलाफ एक कड़ा कदम उठाते हुये नए प्रतिबंद लगाए हैं। इन प्रतिबंधों के दायरे में इस बार सिर्फ उत्तर कोरिया ही नहीं है बल्कि चीन की दो कंपनियां भी आई हैं।

क्योंकि इन दोनों कंपनियों ने प्रतिबंद के बावजूद उत्तर कोरिया को मदद पहुचांई है। अमेरिका का कहना है कि संयुक्‍त राष्‍ट्र और अमेरिका द्वारा प्रतिबंध लगाने के बावजूद कंपनियों ने किम की मदद की है।

America fails to negotiate talks on China and North Korea

क्या कहना हैं ट्रंप का

प्रतिबंधों के चलते ट्रंप प्रशासन का कहना है कि वह इसके जरिए उत्तर कोरिया को कोई नुकसान नहीं पहुंचाना चाहता है। अमेरिका का कहना है कि वह सिर्फ इस बात को सुनिश्चित करना चाहता है कि उत्तर कोरिया अपने परमाणु कार्यक्रम की तरफ आगे न बढ़े। इसके अलावा वह यह भी चाहता है कि प्रतिबंधों का पूरी तरह से पालन किया जाए, यह सभी देशों पर समान तरह से लागू होता है।


क्या वजह थी वार्ता के विफल होने की

आपको बता दें कि हनोई में हुई वार्ता के विफल होने के पीछे सबसे बड़ी वजह यही थी कि किम चाहते थे कि अमेरिका अपने प्रतिबंध हटा ले। लेकिन ट्रंप इस पर राजी नहीं हुए और वार्ता बीच में ही छोड़कर चले गए। तभी से माना जा रहा था कि इसकी विफलता का खामियाजा कहीं न कहीं उत्तर कोरिया भुगतना पड़ेगा।

 

परमदु कार्यक्रम हैं एक बड़ी वजह

प्रतिबंधों के चलते अमेरिका ने साफ कर दिया की वह उत्तर कोरिया की मांग को पूरा नहीं करेगा ट्रंप प्रशासन ने चीन की कंपनियों को भी सख्‍त हिदायत दी है। इसके अलावा अमेरिका ने यह भी साफ कर दिया है कि न सिर्फ उत्तर कोरिया बल्कि चीन भी इसको लेकर खतरे के दायरे में है। ट्रंप के नेशनल सिक्‍योरिटी एडवाइजर ने भी साफ कर दिया है कि हर किसी को यह सुनिश्चित कर देना होगा कि वह उत्तर कोरिया की किसी भी तरह से मदद नहीं करेगा। चीन की कंपनियां चाहे वह शिपिंग इंडस्‍ट्री से जुड़ी हों या फिर फाइनेंस से सभी पर उत्तर कोरिया से मदद के एवज में प्रतिबंध का खतरा मंडरा रहा है।

यह भी पढ़ें...ब्लॉग लिख हमलावर हुए पीएम, अखिलेश बोले - अच्छे दिनों के बारे में पूछने वाला कोई नहीं

Web Title: America fails to negotiate talks on China and North Korea ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया