मुख्य समाचार
पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक आज, ममता और केसीआर नहीं होंगे शामिल एनडी टीवी के खास प्रमोटरों पर सेबी ने लगाई रोक, लगा इतने साल का प्रतिबंध एयरपोर्ट पर चंद्रबाबू नायडू की ली गई तलाशी, टीडीपी ने बदले की राजनीति का लगाया आरोप यूपी को डिजिटल उत्तर प्रदेश बनाने के लिए व्यापक और मजबूत दूरसंचार नेटवर्क की आवश्यकता : उप मुख्यमंत्री बल्लेबाजी डॉट कॉम के ब्रांड एम्बेसडर बने युवराज राज्यपाल ने केन्द्रीय गृह मंत्री से भेंट की सड़क सुरक्षा समिति की बैठक : बसों में अग्निशमन यन्त्र लगाने के निर्देश बसपा सांसद के घर कुर्की का आदेश हुआ चस्पा दान के सिक्कों को लेकर परेशानी में साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट, जानिए क्या है वजह मीसा भारती ने चुनाव में हार का लिया ऐसे बदला संभावित आतंकी हमले को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट स्कूल चलो अभियान में सभी बच्चों को नजदीकी स्कूलों में शत-प्रतिशत नामांकन कराये जाने के निर्देश पाकिस्तान से वीडियो कॉल कर युवक ने कहा- भाईजान बम कहां रखना है और फिर...
 

दूसरी बार आर्थिक संकट में आई जेट एयरवेज, फाउंडर और चेयरमैन ने दिया इस्तीफा


NAZO ALI SHEIKH 26/03/2019 16:08:02
39 Views

Lucknow. पहले से ही घाटे में चल रही 26 साल पुरानी जेट एयरवेज पर एक बार फिर आर्थिक संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इतना ही नहीं इस बार के हुए घाटे के कारण जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल और पत्नी अनीता गोयल को एयरलाइन के बोर्ड से इस्तीफा देना पड़ा है। इससे पहले 2013 में आर्थिक संकट के वक्त जेट को अबू धाबी की एतिहाद एयरवेज को 24% शेयर बेचने पड़े थे। भास्कर प्लस ऐप ने एविएशन एक्सपर्ट हर्षवर्धन और एविएशन डिपार्टमेंट के पूर्व सचिव सनत कौल से बातचीत कर जेट के मौजूदा संकट की वजह जानने की कोशिश की।

यह भी पढ़ें... #IPL2019 : BCCI ने IPL उद्घाटन समारोह की राशि सैन्य बलों को दी

Jet Airways, Founder and Chairman of the Economic Crisis Against Resignation

पहली और सबसे बड़ी वजह है घरेलू कॉम्पीटिशन। बीते कुछ साल में जेट एयरवेज ने सस्ते किराए की योजनाएं शुरू करने की कोशिश की, लेकिन इससे उसकी आमदनी नहीं बढ़ पाई। किंगफिशर एयरलाइन्स के बंद होने का भी जेट एयरवेज फायदा नहीं उठा पाई। इंडिगो ने यह मौका भुना लिया। घरेलू कॉम्पीटिशन के दबाव में 10 साल में जेट एयरवेज ने अपने बेड़े में विमानों की संख्या 81 से बढ़ाकर 119 कर दी। पिछले साल ब्रेंट क्रूड महंगा होने की वजह से एयरलाइन का हवाई ईंधन खर्च बढ़कर 6,953.25 करोड़ रुपए पहुंच गया। 2017 में यह 5,935.93 करोड़ रुपए था। 

यह भी पढ़ें... लोकसभा चुनाव: हेमा के खिलाफ उतरीं डांसर सपना तो ये होंगे नतीजे, मथुरा सीट में होगा...

Jet Airways, Founder and Chairman of the Economic Crisis Against Resignation

2018 में डॉलर के मुकाबले रुपया रिकॉर्ड निचले स्तर तक गिर गया था। इससे जेट एयरवेज का विदेशी मुद्रा खर्च भी बढ़ा। दरअसल, हवाई ईंधन खरीदने के लिए और विदेशी लीजदाताओं को रकम चुकाने के लिए कंपनियों को डॉलर में भुगतान करना होता है।

Web Title: Jet Airways, Founder and Chairman of the Economic Crisis Against Resignation ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया