मुख्य समाचार
हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा भाजपा सरकार ने जनता की सुरक्षा को अपराधियों के आगे गिरवी रख दिया है : अखिलेश जन्मदिन विशेष: शाहरुख की फिल्में हिट कराने में सुखविंदर सिंह का बड़ा योगदान हज यात्री इन्तज़ामों में कमी बतायें, दूर किया जायेगा : मोहसिन रज़ा ‘‘भूजल सप्ताह’’ के दूसरे दिन जल संरक्षण पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता एवं विज्ञान प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित जालान पैनल ने तैयार की फंड ट्रांसफर की रिपोर्ट, सरकार को मिलेगी बड़ी राहत बाढ़ राहत के कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये : राहत आयुक्त राजकीय नलकूपों के यांत्रिक दोषों को 24 घंटे में दूर करें : धर्मपाल सिंह  पुलिस से परेशान व्यापारी ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए अक्षय, प्रियंका ने भी की अपील सोनभद्र: 90 बीघा जमीन के लिए हुआ खूनी संघर्ष, 11 की मौत
 

मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित करने की एक बार फिर शुरू हुई कोशिश


DEEP KRISHAN SHUKLA 28/03/2019 10:37 AM
104 Views

New Delhi. जैश सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में ग्लोबल आतंकी घोषित कराने की कोशिश एक बार फिर शुरू हो गयी हैं। अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने इस आतंकी को ब्लैक लिस्ट कराने के फिर से यूएनएससी में प्रस्ताव दिया था जिस पर चीन ने दो सप्ताह पहले वीटो पावर लगा कर अड़ंगा लगा दिया था। इसके बाद अमेरिका ने परिषद को बुधवार मसौदा प्रस्ताव भेज कर आतंकी को प्रतिबंधित करने की मांग की है।

Mashud Azahar Ko Globle Aatanki Ghoshit Karne Ki Ek Bar Fir Shuru Hui Koshish 
अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में बुधवार को एक मसौदा प्रस्ताव भेजा जिसमें पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के सरगना अजहर मसूद को प्रतिबंधित करने की बात की गई है। 
इस कदम के बाद अमेरिका के संयुक्त राष्ट्र में चीन के साथ संभावित टकराव की स्थिति बन गई है। 
इस महीने की शुरुआत में चीन ने इस प्रयास में अड़ंगा डाल दिया था। जिसके बाद अमेरिका अजहर को प्रतिबंधित करने के प्रस्ताव को लेकर सीधे सुरक्षा परिषद पहुंच गया। 

Mashud Azahar Ko Globle Aatanki Ghoshit Karne Ki Ek Bar Fir Shuru Hui Koshish
मसौदा प्रस्ताव में पुलवामा के आत्मघाती हमले की निंदा करते हुए निर्णय लिया गया है कि आतंकी मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र के अल-कायदा एवं इस्लामिक स्टेट प्रतिबंधों की काली सूची में रखा जाएगा। 
अभी यह तय नहीं हुआ है कि इस मसौदा प्रस्ताव में वोटिंग कब होगी। बता दें कि वोटिंग करने वाले स्थायी सदस्य देशों में ब्रिटेन, फ्रांस, रूस और अमेरिका के साथ चीन शामिल है।
  अमेरिका के विदेश मंत्री का चीन के प्रति बड़ा बयान
मसूद अजहर पर चीन की अड़गेबाजी और अमेरिका की कार्रवाई के बाद दोनों देशों के बीच एक बार फिर तकरार बढ़ सकती है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ बुधवार को ट्वीट के जरिए कहा कि दुनिया मुसलमानों के प्रति चीन के शर्मनाक पाखंड को बर्दाश्त नहीं कर सकती। अपने यहां लाखों मुसलमानों पर अत्याचार करने वाला चीन हिंसक इस्लामी आतंकवादी समूहों को संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों से बचाता है।

Mashud Azahar Ko Globle Aatanki Ghoshit Karne Ki Ek Bar Fir Shuru Hui Koshish

पोम्पिओ ने यह आरोप भी लगाए है कि चीन 2017 से शिनजियांग प्रांत में नजरबंदी शिविरों में 10 लाख से ज्यादा उइगरों, कजाखों और अन्य मुस्लिम अल्पसंख्यकों को हिरासत में लेकर अत्याचार कर रहा है। चीन को इस दमन को रोकते हुए हिरासत में लिए गए लोगों को रिहा करना चाहिए।

यह भी पढ़े...घाटी में सेना ने मुठभेड़ में मार गिराए तीन आतंकी, सर्च आपरेशन जारी

 

 

 

 

Web Title: Mashud Azahar Ko Globle Aatanki Ghoshit Karne Ki Ek Bar Fir Shuru Hui Koshish ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया