जामा मस्जिद के शाही इमाम का सियासी दलों को नोटा, जानिए क्या कहा


DEEP KRISHAN SHUKLA 09/04/2019 13:28:10
35 Views

New Delhi. चुनावी सियासत में मुस्लिम वोटरों का रूख तय करने वाली दिल्ली की ऐतिहासिक जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने इस दफा 'नोटा' वाला रूख अपनाया है। उन्होंने कहा कि 2019 के आम चुनाव में वह पार्टी को सपोर्ट नहीं करेंगे। इसकी अधिकारिक पुष्टि करते हुए उन्होंने बीते दिन साफ कर दिया कि वह मतदाताओं को किसी प्रकार कोई भी सियासी पैगाम नहीं देगें।

Jama Masjid Ke Shahi Imam Ka Siyasi dalon Ko Nota, Janiye Kya Kaha

इस दौरान उन्होंने इशारों इशारों में यह जरूर साफ किया कि राजनीतिक पार्टियां वोट हथियाने के बाद मुस्लिमों को भूल जाती हैं।

उन्होंने कहा कि मुस्लिम आवाम को यह ध्यान रखना होगा कि सियासी दलों ने हमेशा उनकी उपेक्षा की है। लम्बी चौड़ी वादों की फेहरिस्त के एवज में बयान और घोषणाएं तो तमाम है पर जमीनी हकीकत इन सबसे इतर है। उन्होंने इस अन्याय की कहानी को बहुत लम्बा बताया। 

Jama Masjid Ke Shahi Imam Ka Siyasi dalon Ko Nota, Janiye Kya Kaha

बुखारी ने सबसे बड़ी बात यह कही कि राजनीति की गंदगी ने समाज में नफरत और धर्म के नाम उन्माद फैलाकर राष्ट्र के आधारभूत मूल्यों को निस्तेनाबूत करने का काम कर रहे हैं, जो एक सभ्य समाज के लिए लिहाज से बेहद खतरनाक है।

बारूद के ढेर पर बैठी कश्मीरी जनता को मुख्यधारा में लाने वाली एक अदद नीति भी नजर नहीं आ रही है।

उन्होंने कहा सियासतबाजी के बदले इस मिजाज में जर्रे जर्रे पर सांप्रदायिकता का जहर बिखरा नजर आ रहा है। ऐसे में किसी दल की तरफदारी की पैरवी आवाम से की जा सकती है?

यह भी पढ़े...अमेरिकी खुफिया सेवा के निदेशक रैनडॉल्फ टेक्स एलेस देंगे इस्तीफा

Web Title: Jama Masjid Ke Shahi Imam Ka Siyasi dalon Ko Nota, Janiye Kya Kaha ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया