मुख्य समाचार
पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक आज, ममता और केसीआर नहीं होंगे शामिल एनडी टीवी के खास प्रमोटरों पर सेबी ने लगाई रोक, लगा इतने साल का प्रतिबंध एयरपोर्ट पर चंद्रबाबू नायडू की ली गई तलाशी, टीडीपी ने बदले की राजनीति का लगाया आरोप यूपी को डिजिटल उत्तर प्रदेश बनाने के लिए व्यापक और मजबूत दूरसंचार नेटवर्क की आवश्यकता : उप मुख्यमंत्री बल्लेबाजी डॉट कॉम के ब्रांड एम्बेसडर बने युवराज राज्यपाल ने केन्द्रीय गृह मंत्री से भेंट की सड़क सुरक्षा समिति की बैठक : बसों में अग्निशमन यन्त्र लगाने के निर्देश बसपा सांसद के घर कुर्की का आदेश हुआ चस्पा दान के सिक्कों को लेकर परेशानी में साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट, जानिए क्या है वजह मीसा भारती ने चुनाव में हार का लिया ऐसे बदला संभावित आतंकी हमले को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट स्कूल चलो अभियान में सभी बच्चों को नजदीकी स्कूलों में शत-प्रतिशत नामांकन कराये जाने के निर्देश पाकिस्तान से वीडियो कॉल कर युवक ने कहा- भाईजान बम कहां रखना है और फिर...
 

22 अप्रैल तक एनआईए की हिरासत में रहेगा यासिन मलिक


DEEP KRISHAN SHUKLA 10/04/2019 15:29:35
26 Views

New Delhi. टेरर फंडिंग के आरोपी व जेकेएलएफ प्रमुख यासिन मलिक को 22 अप्रैल तक एनआईए की हिरासत में भेज दिया गया है। मामले की सुनवाई के लिए उसे बुधवार दिल्ली की अदालत में पेश किया गया था। जहां विशेश न्यायाधीश राकेश स्याल ने यह आदेश जारी किया। 

Yasin Malik will be in custody of NIA till April 22
मालूम हो कि एनआईए की विशेष अदालत ने पूछताछ के लिए उसे हिरासत में लेने के आदेश जारी किए थे। इसी आधार पर मंगलवार को मलिक को दिल्ली लाया गया था।

बुधवार उसे न्यायाल में पेश करने पर उसे हिरासत में भेजने का आदेश पारित हुआ। अदालत के आदेश के बाद जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख को पुलिस के सुरक्षा घेरे में तिहाड़ जेल ले जाया गया है। 
जम्मू-कश्मीर पुलिस ने फरवरी में भी उसे हिरासत में लेकर जम्मू जेल में स्थानांतरित कर दिया था। यासिन मलिक पर 1989 में तत्कालीन केंद्रीय गृहमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रुबैया सईद के अपहरण और 1990 में भारतीय वायुसेना के चार कर्मियों की हत्या में शामिल होने का आरोप है।
एनआईए ने जम्मू की विशेष अदालत का में टेरर फंडिंग के मामले में मलिक को हिरासत में लेकर जांच करने की मांग की थी। 
राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों और अलगाववादी समूहों को धन मुहैया कराने के मामले में जेकेएलएफ प्रमुख यासीन मलिक को बुधवार को दिल्ली की अदालत में पेश किया। मलिक को विशेष न्यायाधीश राकेश स्याल की अदालत में पेश किया गया।

यह भी पढ़े...अगर मोदी जीते तो सुलझ सकता है कश्मीर मुद्दा: इमरान खान

 


 

 

Web Title: Yasin Malik will be in custody of NIA till April 22 ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया