मुख्य समाचार
कांग्रेस ने यूपी की गोरखपुर व वाराणसी सीट के उम्मीदवारों के नाम का किया एलान PM मोदी ने कहा- पड़ोस में आतंकवाद की फैक्ट्री चल रही है और विरोधी बोलते हैं यह मुद्दा ही नहीं है सीएम ममता की बायोपिक पर रोक, दिया ये करारा जवाब कांग्रेस को यूपी में बड़ा झटका, इस प्रत्याशी का पर्चा हुआ खारिज, जानिए क्या रही वजह B.Ed डिस्टेंस अभ्यर्थियों का CET परीक्षा परिणाम जारी, यहां देखें रिजल्ट शिक्षक बनने का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन दिव्यांका त्रिपाठी ने किया इस शो को छोडने का फैसला, जानें वजह पोलिंग बूथ पर पीठासीन अधिकारी से मारपीट करने वाला गिरफ्तार जन्मदिन पर सचिन को मिला नोटिस वाला तोहफा कैसरगंज के प्रेक्षकों ने चुनाव तैयारियों का लिया जायजा, कार्यवाही की चेतावनी मनचले ने तेल छिड़क कर युवती को जलाया, बेटी के साथ मां भी झुलसी हेलीकॉप्टर से गरमाया एमपी का सियासी माहौल  मोदी चौकीदार हैं या कोई शहंशाह : प्रियंका
 

मायावती ने बुलंदशहर से आकाश को राजनीति में उतारने का किया ऐलान, सियासी गलियारे में मची हलचल


NAZO ALI SHEIKH 14/04/2019 09:54:46
284 Views

Bulandshahar. लोकसभा चुनाव 2019 में सभी पार्टियां अपना दम-खम लगाकर सियासी मैदान में ताल ठोक रही हैं। ऐसे में बसपा सुप्रीमो मायावती भी लगातार अपना शक्ति प्रदर्शन करती नजर आ रही हैं इस बार वह जीत के लिए कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखना चाहती हैं। 

यह भी पढ़ें... मंदिर के इस सेवादार को गोरखपुर से टिकट दे सकती है भाजपा

Mayawati declares to bring Akash to politics in Bulandshahr

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कल यानि 13 अप्रैल को गठबंधन के मंच पर बुलंदशहर में अपनी रैली के दौरान अपने भतीजे आकाश को राजनीति के सियासी मैदान में उतारने का ऐलान कर दिया। वह जनसभा स्थल पर अपने करीबियों के साथ पहुंची थीं वहां उनके भाई और दो भतीजे साथ नजर आए। 

बता दें कि दोपहर करीब 1 बजे मायावती का हेलीकॉप्टर जनसभा स्थल के पास उतरा था। इस दौरान उनके साथ हेलीकॉप्टर से उनके भाई आनंद व भतीजे आकाश, ईशान और राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा भी साथ आए थे। इस दौरान मायावती ने भतीजे आकाश को राजनीति में लाने का ऐलान कर दिया। 

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों आकाश की चप्पलों तक को लेकर विवाद किया गया। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि वह अपने परिवार को राजनीति से दूर रखती हैं, लेकिन उस चप्पल वाले मामले ने उन्हें आकाश को राजनीति में लाने के लिए और सियासत सिखाने के लिए प्रेरित किया है। 

यह भी पढ़ें... सौ साल पहले हुआ था जलियांवाला बाग हत्याकांड, ब्रिटेन ने इस वजह से अब तक नहीं मांगी माफी

मायावती की इस घोषणा के बाद राजनीतिक गलियारे में हलचल मच गई। चारों ओर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया, कोई आकाश को बसपा सुप्रीमो का उत्तराधिकारी कह रहा है तो कोई बसपा का अगला उभरता हुआ चेहरा मान रहा है। हालांकि मायावती ने आकाश को राजनीति में लाने के अलावा और कोई ऐलान नहीं किया है। 

Mayawati declares to bring Akash to politics in Bulandshahr

  गठबंधन मंच पर रार

बसपा-सपा के गठबंधन को लेकर मंच पर रार नजर आई। मंच से पूर्व मंत्री व जिलाध्यक्ष कुंवर अब्दुल रब, सपा के प्रदेश सचिव दिनेश गुर्जर, पूर्व सदर विस प्रत्याशी शुजात आलम, राहुल यादव, अमजद अली गुड्डू गायब रहे।

सपा नेता शुजात आलम ने बताया कि पहले उन्हें मंच पर आने का न्यौता दिया गया, फिर वहीं रोक दिया गया। इस दौरान सूची से भी उनका नाम गायब कर दिया गया। एक पूर्व विधायक व अन्य लोगों ने उन्हें मंच पर लाने की कोशिश की, लेकिन उनकी भी एक न सुनी गई। 

जनसभा स्थल पर बसपा का एक सपोर्टर मायवती नेक्स्ट पीएम की तख्ती लिए घूमता नजर आया। युवक के साथ लोग सेल्फी लेने में व्यस्त थे। वहीं युवक बार-बार मायावती को अगला प्रधानमंत्री बनाने के नारे लगा रहा था। 

Web Title: Mayawati declares to bring Akash to politics in Bulandshahr ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया