मुख्य समाचार
12वीं पास को यहां नौकरी का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन आराध्या बच्चन ने अपने कमाल के डांसिंग मूवस से जीता सबका दिल, देखें वीडियो ...तो एडल्ट बैकग्राउंड पर शर्मिंदा होती सनी लियोनी? दिए चौंकाने वाले जवाब Exit Polls में कांग्रेस के लिए एक खुशखबरी Redmi Note 7s स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, जानें कीमत गर्लफ्रेंड गैब्रिएला के साथ मालदीव में छुट्टी बिता रहे हैं अर्जुन रामपाल, देखें तस्वीरें ...तो यूपी में बीजेपी का सूपड़ा हो जाएगा साफ, मायावती बनेंगी किंग मेकर! सिद्धू के पास एकमात्र विकल्प, इमरान खान की पार्टी कर लें ज्वाइन कुख्यात बदमाश ने दिल्ली पुलिस के सब इंस्पेक्टर को पीट-पीटकर मार डाला IAS बनने का है सपना, यहां फ्री में पाएं UPSC कोचिंग की सुविधा इस नियम को तोड़कर शिल्पा शेट्टी ने लिया इफ्तार पार्टी का मजा, शेयर किया वीडियो पाकिस्तानी बल्लेबाज आसिफ अली की बेटी की मौत, कैंसर का थी शिकार राज्यपाल ने ‘मधु अभिलाषा’ और ‘हिंद स्वराज्य का पुनर्पाठ’ पुस्तकों का किया विमोचन कांग्रेस अंतिम चरण की सात से ज्यादा लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करेगी: प्रवक्ता पाकिस्तान की दो बेटियों ने काशी में किया मतदान, बोलीं बेहतरीन है हिंदुस्तान IPL को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, मुंबई पुलिस ने IPL में मुहैया कराई सुरक्षा, नहीं मिला पैसा सीआईएसएफ ने दो सूडान मूल के नागरिकों से बरामद की लाखों की विदेशी करेंसी प्रेम नारायण मेहरोत्रा के 'भजन संग्रह' का विमोचन लड़कियों के लिए सुनहरा मौका, बालों से होगी कमाई, करना होगा ये काम राजधानी में टेंट कारोबारी की राह चलते गोली मारकर हत्या से मची सनसनी वोटर लिस्ट में तेजस्वी की जगह इस शख्स की तस्वीर, मचा हड़कंप आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर वॉल्वो बस पलटी, पांच की मौत, दो दर्जन घायल चुनाव आयोग पीएम मोदी के इशारे पर कर रहा पक्षपातपूर्ण बर्ताव : कांग्रेस आयोग में आंतरिक घमासान के निपटारे के लिए सीईसी ने मंगलवार को बुलाई बैठक मायावती ने कहा- क्या वाराणसी 1977 के रायबरेली को दोहराएगा कान फिल्म फेस्टिवल 2019 में जलवा बिखेरकर लौटीं दीपिका पादुकोण, एयरपोर्ट पर वायरल हुईं तस्वीरें समीक्षा अधिकारी पर्चा लीक मामले में सीबीसीआईडी ने कोर्ट को भेजी अंतिम रिपोर्ट भाजपा ने चुनाव आयोग से की मायावती-अखिलेश की शिकायत  दो अलग अलग घटनाओं में जहरीला पदार्थ खाने से युवती और किशोरी की मौत
 

अवैध कमाई के लिए डग्गामार वाहनों पर मेहरबान है पुलिस— प्रशासन


LEKHRAM MAURYA 19/04/2019 13:19:38
43 Views


 Daggamar vehicles are happy because of illegal earning Police and Administration

LUCKNOW. परिवहन विभाग की लापरवाही और पुलिस की अवैध वसूली के चलते जहां एक ओर डग्गामार वाहनों से सरकार को हर महीने करोड़ों की चपत लग रही है वहीं सम्बन्धित थानों के दरोगा मालामाल हो रहे हैं।

अन्यथा पुलिस को इलाके के दूर दराज में होने वाले खनन और अवैध लकड़ी कटान की जानकारी हो जाती है, लेकिन सड़कों पर दौड़ रहे अवैध वाहनों पर पुलिस की नजर क्यों नहीं पड़ती। यह सवाल हर उस व्यक्ति के दिमाग मे कौंधता रहता है जो समाज के प्रति जरा सा भी जागरूक है। 

मैजिक और टैम्पो के गेट पर खड़ी करते हैं सवारियां

माल मे थाने के सामने ही चौराहे से अवैध एवं बिना नम्बर की मैजिक और बिना कागजों की सैकड़ों टैम्पो भूसे की तरह सवारियां भरने के साथ—साथ बाहर दरवाजों पर सवारियां खड़ी कर लेते हैं। यह सब जनता को तो दिखाई देता है पर पुलिस के किसी कर्मचारी अधिकारी को सड़क पर हो रहे अवैध कार्य नहीं दिखाई देते। 

 Daggamar vehicles are happy because of illegal earning Police and Administration

राजधानी के चारों ओर फैला है ऐसे डग्गामार वाहनों का जाल
माल, मलिहाबाद, काकोरी थानों की बात की जाय तो इनमे माल थाने के सामने से ही पुलिस संरक्षण मे डग्गामार वाहनों का संचालन जारी है। जबकि दुबग्गा मे कानपुर बाइपास के पास से ही मैजिकों का संचालन किया जाता है। इसके अलावा माल मे ही थाने के सामने से सवारियां ढोते डाला हमेशा देखे जा सकते हैं। पुलिस इन सबसे अन्जान क्यों है? क्षेत्र मे सैकड़ों निजी मारूती वैन शादी बारातों मे सवारियां ढोने का काम करती हैं जिससे सरकार को लाखों के राजस्व का नुकसान हो रहा है।

 Daggamar vehicles are happy because of illegal earning Police and Administration 

माल थाने के दरोगा को यह सब आसानी से दिखाई नहीं पड़ता

माल थाने मे तैनात हल्का नं0 1 के दरोगा सचिन कुमार का कहना है कि इन पर कोई ध्यान नहीं देता है। यदि चालान काटने बैठे हैं तो भले ही कोई दिखाई पड़ जाय, अन्यथा ऐसे वाहन दिखाई नहीं पड़तें हैं। इनका कहना है कि सभी वाहनों मे नम्बर प्लेट हैं जबकि सच्चाई  इससे कहीं उलट है, क्योंकि यहां तो दर्जनों गाड़ियां बिना  नं0 चल रही हैं। मसीढ़ा हमीर मे स्थित सहयोगी शिक्षण संस्थान मे डेढ़ साल से बिना नम्बर प्लेट बस और वैन बच्चों को लाने ले जाने का काम कर रहीं हैं।

बिना नम्बर प्लेट और निजी वाहनों से ढोते हैं स्कूली बच्चे और सवारियां

इसी तरह क्षेत्र के माल, नबीपनाह, मधवापुर, अमानीगंज, कसमंडी कला, मोहम्मद नगर सहित अंधे की चौकी के स्कूलों में निजी वैन ​स्कूलों में बच्चों को ढोने का काम कर रही हैं। और पुलिस, प्रशासन,परिवहन विभाग के अधिकारी सरकार की नाक के नीचे जनता की आंखों मे धूल झोंक रहे हैं। यह हाल केवल तीन थानों का नहीं है बल्कि राजधानी के देहात से जुड़े हर थाना क्षेत्र का यही हाल है।

Web Title: Daggamar vehicles are happy because of illegal earning Police and Administration ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया