मुख्य समाचार
बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा का निधन मायावती का आरक्षण पर बड़ा बयान, सरकार घूम-घूमकर करे ये काम.... लालू का चलना फिरना हुआ मुश्किल, डॉक्टर्स ने कहा- अब नहीं... यूजीसी ने प्लास्टिक बैन पर लिया बड़ा फैसला, विश्वविद्यालयों को लिखा पत्र शराब के नशे में फुटपाथ पर चढ़ाई कार, कई लोगों को किया घायल ताबड़तोड़ हत्याओं से दहला प्रयागराज, एक ही दिन में 6 मर्डर मिट्टी डालकर गड्ढामुक्त की जा रही डामर रोड शुद्ध जीवन जीने के लिए पेड़ लगाना जरूरी जानिए, कैसे बढ़ाएंं पलकों और होठों की खूबसूरती बिना सर्जरी ? कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सीएम की महारैली, कर सकते हैं ये बड़ा फैसला तेजस्वी के समर्थन में राबड़ी उठाया ये बड़ा कदम, परास्त हो गए सारे बागी प्लास्टिक के खिलाफ पीएम ने छेड़ी जंग, 10 लाख लोगों को करेंगे... मुख्यमंत्री से नहीं मिल सका दुनिया का सबसे लम्बा आदमी कांग्रेस पूरे प्रदेश में मनायेगी स्व0 राजीव गांधी की 75वीं जयन्ती अखिलेश ने दिया ऐसा बयान, किसान और जवान कर रहे सलाम!
 

शुरू करें गोबर का यह रोजगार, कमाई होगी बेशुमार


DEEP KRISHAN SHUKLA 24/04/2019 13:19:08
192 Views

Lucknow. गोरक्षा और गोसंवर्धन से जुड़ी एक राहत भरी खबर है। गाय के गोर बसे कागज बनाने का सफल प्रयोग किया जा चुका है। इस उद्योग के जरिए जहां अच्छी खासी कमाई की जा सकती है वहीं दूसरी ओर गाय का गोबर एकत्र करने के लिए पशु पालक अपनी गायों को आवारा भी नहीं छोड़ेंगे।

Start this dung job, earn a lot of uncounted

हमारे धर्म और संस्कृति में गाय की महत्ता जग जाहिर है। गाय का गोबर तमाम तरह से उपयोगी है यह तो सभी जानते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि गाय का गोबर आपकी अच्छी खासी कमाई का जरिया भी बन सकता है।

बस इसके लिए आपको गाय के गोबर से कागज बनाने का कारखाना लगाना होगा। सरकार ने गाय के गोबर से कागज बनाने का सफल परीक्षण किया है।

Start this dung job, earn a lot of uncounted

मध्यम, लघु एवं सूक्ष्म उद्यम मंत्रालय देश भर में इसके प्लांट लगाने की योजना तैयार कर रहा हे। इसमें कागज तैयार करने के गोबर के साथ साथ कागज की कतरन का प्रयोग किया जाता है।

गाय के गोबर से कागज बनाने के प्लांट लगाने के लिए सरकारी मशीनरी उद्यमियों को कर्ज पर धनराशि मुहैया कराएगी।

इस संयत्र की स्थापना में तकरीबन 15 लाख रुपए की धनराशि खर्च होगी। एक प्लांट में निर्मित कागज से एक माह में 1 लाख कागज के बैग बनाए जा सकते हैं।

Start this dung job, earn a lot of uncounted

  किसानों और पशुपालकों को भी होगी आमदनी

इन संयत्रों की स्थापना से किसानों और पशुपालकों की आय में भी वृद्धि होगी। जिसकी वजह यह है कि ये प्लांट कच्चे माल के रूप में कागज बनाने के लिए किसानों और पशुपालकों से गोबर की खरीददारी करेंगे। गोबर की खरीददारी के लिए इसकी दर का निर्धारण 5 रुपए प्रति किलोग्राम रखा गया है। एक अनुमान के मुताबिक एक जानवर एक दिन में औसतन 8-10 किलोग्राम गोबर करता है। जिससे किसानों और पशु पालकों को रोजाना कम से कम 50 रुपये और महीने में 1500 रुपए की अतिरिक्त आमदनी होगी।

  गोबर ही वेजेटेबल डाई का भी हो सकेगा उत्पादन

गोबर से कागज बनाने के संयत्रों में कागज के साथ साथ वेजेटेबल डाई बनाने का काम भी किया जा सकेगा। कागज बनाने के लायक सिर्फ 7 प्रतिशत मैटेरियल गोबर से निकलता है शेष बचे 93 प्रतिशत का प्रयोग वेजेटेबल डाई बनाने में किया जा सकता है। खास बात यह है कि गोबर से बननी डाई पर्यावरण के अनुकूल होतेी है जिसका निर्यात भी किया जा सकता है।

Start this dung job, earn a lot of uncounted

  तो एक तीर से लगेंगे कई निशाने

सरकार के यह प्रयास अगर अपने अंजाम तक सफलता पूर्वक पहुंचते हैं तो एक साथ कई समस्याओं का काफी हद तक निस्तारण हो जाएगा। प्लांट लगने से जहां रोजगार के अवसरों का सृजन होगा वहीं किसानों और पशुपालकों की आमदनी बढ़ेगी। जब गोबर बिकना शुरू होगा तो उसे एकत्र करने के लिए पशु पालक उन्हें आवारा छोड़ना बंद करने की ओर अग्रसर होगें जिससे छुट्टा मवेशियों की समस्या पर काफी हद तक लगाग लगेगी। वहीं दूसरी ओर इस काजग से जब बड़े पैमाने पर थैलों का उत्पादन होगा तो लोगों में पालीथीन के प्रयोग की प्रवृत्ति भी कम होगी।

यह भी पढ़े...लोन लेने से पहले जान लें ये खास बातें, ईएमआई भरने में नहीं होगी परेशानी

Web Title: Start this dung job, earn a lot of uncounted ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया