मुख्य समाचार
KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था सेक्स रैकेट, इस तरह पुलिस ने किया पर्दाफाश मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को पार्टी से किया बाहर मौसी के घर आयी बच्ची का तालाब में उतराता मिला शव साढ़े छह लाख की शराब के साथ एसटीएफ के हत्थे चढे़ दो तस्कर 28वीं पुण्य तिथि पर याद किए गए पूर्व पीएम राजीव गांधी BSP की जगह BJP को वोट देना महिला को पड़ा भारी, पति ने फावड़े से काटकर की हत्या पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता  लोकसभा चुनाव खत्म होते ही बंद हुआ नमो टीवी, भाजपा ने दिए थे इतने लाख रुपए सीडीओ ने देवलान गौशाला का किया निरीक्षण बड़ा मंगल दे रहा है दस्तक, लखनऊ मेट्रो की सवारी कर बचें धूप और जाम से आजम खान के खिलाफ आचार संहिला उल्लंघन के 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल
 

सरकारी शिक्षा का हाल, प्रति विद्यालय 11 छात्रों का नामांकन


LEKHRAM MAURYA 26/04/2019 13:47:32
50 Views

 Nomination for 11 students of the school

LUCKNOW. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  की चेतावनी के बावजूद सरकारी स्कूलों के अध्यापकों पर कोई असर नहीं हो रहा है। यही कारण है कि राजधानी के विकास खण्ड माल और मलिहाबाद के प्राथमिक विद्यालयों मे अब तक औसतन 11 छात्र ​प्रति विद्यालय ही नामांकन हो पाए हैं। जबकि अप्रैल माल के समाप्त होने मे मात्र दो दिन शेष हैं।

 Nomination for 11 students of the school

नामांकन बढ़ाने में सरकारी अध्यापकों की रूचि नहीं

 

मार्च में जिला​ बेसिक शिक्षा अधिकारी ने जिले के अध्यापकों और विकास खण्डों के अधिकारियों को चेतावनी दी थी कि जिस विद्यालय में 15 फीसदी से कम नांमांकन होंगे, उन विद्यालयों के अध्यापकों का वेतन रोक दिया जाएगा, लेकिन एक माह बीतने वाला है, ​लेकिन यह मानक अभी पूरा नहीं हो पाया है।

शुक्रवार को प्राथमिक विद्यालय नई बस्ती में 9:15 बजे अध्यापक नदारद थे और विद्यालय में 9 बच्चे खेल रहे थे। बच्चों ने क​हा कि सर जी अभी आए नहीं हैं। बच्चों ने कहा कि रसोइया स्कूल खोलकर घर चली गयी है। 

 Nomination for 11 students of the school

पुस्तकों का पता नहीं, कैसे हो नामांकन

 

प्राथमिक विद्यालय सुक्खाखेड़ा में अब तक 12 छात्रों का नामांकन हुआ है। जबकि ग​त वर्ष 15 छात्रों का नामांकन हुआ था। अध्यापिका ने कहा कि अभी कुछ और छात्रों का नामांकन हो जाएगा।

प्राथमिक विद्यालय पतौना अंग्रेजी माध्यम में भी पुस्तकों की कमी के कारण अभी तक मात्र 17 छात्रों का पं​जीकरण हुआ है। प्रधानाध्यापिका ने बताया कि अभी तक कक्षा तीन की दो और कक्षा दो की एक पुस्तक ही अंग्रेजी माध्यम की आई है। 

एक ओर जहां शिक्षा विभाग अधिक से अधिक नामांकन कराने के लिए अध्यापकों पर दबाव डाल रहा हैएवहीं दूसरी ओर सरकारी स्कूलों में अभी तक पुस्तकें नहीं पहुंची हैं। ऐसे में अभिभावकों का सरकारी विद्यालयों से मोहभंग हो रहा है।

Web Title: Nomination for 11 students of the school ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया