मुख्य समाचार
हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा भाजपा सरकार ने जनता की सुरक्षा को अपराधियों के आगे गिरवी रख दिया है : अखिलेश जन्मदिन विशेष: शाहरुख की फिल्में हिट कराने में सुखविंदर सिंह का बड़ा योगदान हज यात्री इन्तज़ामों में कमी बतायें, दूर किया जायेगा : मोहसिन रज़ा ‘‘भूजल सप्ताह’’ के दूसरे दिन जल संरक्षण पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता एवं विज्ञान प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित जालान पैनल ने तैयार की फंड ट्रांसफर की रिपोर्ट, सरकार को मिलेगी बड़ी राहत बाढ़ राहत के कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये : राहत आयुक्त राजकीय नलकूपों के यांत्रिक दोषों को 24 घंटे में दूर करें : धर्मपाल सिंह  पुलिस से परेशान व्यापारी ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए अक्षय, प्रियंका ने भी की अपील सोनभद्र: 90 बीघा जमीन के लिए हुआ खूनी संघर्ष, 11 की मौत
 

देश भर में इस कंपनी के बेबी शैम्पू की बिक्री पर आयोग ने लगाई रोक, जानिए क्या है वजह


DEEP KRISHAN SHUKLA 29/04/2019 14:07:11
96 Views

New Delhi. बच्चों की देखभाल सामग्री के उत्पाद बनाने वाली कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन की मुशीबतें बढ़ गयी हैं। राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग (एनसीपीसीआर) ने देश भर में इस कंपनी के शैम्पू की बिक्री पर तत्काल रोक लगाने के आदेश जारी किए है। यही नहीं दुकानों पर इस उत्पाद के मौजूदा स्टाक को भी हटवाने के निर्देश दिए गए है। राजस्थान में एक नमूने की रिपोर्ट आने के बाद आयोग ने यह कदम उठाया है। 

The commission stopped selling of this company
बता दें कि कुछ दिनों से यह खबरें चल रही थी कि जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी शैम्पू और पाउडर में एसबेस्टस तत्व हैंं।चिकित्सा विशेषज्ञों के मुताबिक एसबेस्टस के कारण कैंसर जैसी गंभीर बीमारी फैल सकती है।

इन खबरों का संज्ञान लेते हुए राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग ने बीती 15 राजस्थान के अलावा आंध्र प्रदेश, झारखंड, मध्यप्रदेश, असम राज्यों के मुख्य सचिवों को इन उत्पादों के नमूने लेते हुए परीक्षण कराने के निर्देश दिए थे। 

The commission stopped selling of this company
इसके बाद आयोग ने यह आदेश जारी किए कि देश भर में कहीं भी इन उत्पादों की बिक्री किसी भी सूरत में न होने पाए।आयोग के प्रमुख प्रियंक कानूनगो का कहना है कि बच्चे देश का भविष्य है उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारा प्राथमिक और सर्वोपरि कर्तव्य है। 

The commission stopped selling of this company
लिहाजा हम देश में कोई भी ऐसा उत्पाद बिकने नहीं देंगे जो हमारे देश के स्वास्थ्य के लिए खतरा बनें। मालूम हो कि इस कंपनी के पाउडर के खिलाफ अकेले अमेरिका 12 हजार मामले दर्ज हैं।

यही नहीं 22 महिलाओं ने बेबी पाउडर से गर्भाशय का कैंसर होने का मुकदमा दर्ज कराया है। अमेरिका की एक अदालत ने महिलाओं की दलील सही मानते हुए कंपनी को तकरीबन 33 करोड़ का जुर्माना लगाया है। 

यह भी पढ़े...यूपी में आज 4 रैलियों को संबोधित करेंगे अमित शाह

 

 

 

 

 

Web Title: The commission stopped selling of this company's baby shampoo throughout the country, know what is the reason ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया