मुख्य समाचार
महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए शिक्षा जरूरी : अनुपमा जायसवाल अवैध खनन मामले में दोषी पाए गए अधिकारी का तत्काल प्रभाव से स्थानान्तरण सड़क सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन परिवहन मंत्री ने बांटे हेल्मेट, लोगों को किया जागरूक डीएम की बड़ी कार्रवाई, कानूनगो व लेखपाल सहित दो सस्पेन्ड यूपी में कमजोरों और बच्चियों की हत्याओं की आ गई है बाढ़ : अखिलेश क्रिकेट के बाद अब राजनीति की पिच पर भी पाकिस्तान को लग सकता है ये तगड़ा झटका अवैध रूप से संग्रह किये मिट्टी के तेल के साथ एक युवक गिरफ्तार निर्धनों को शिक्षा प्रदान करने के लिए होना चाहिए ह्यूमन टच : राज्यपाल पिता मुलायम को व्हील चेयर पर लेकर लोकसभा पहुंचे अखिलेश यादव
 

बूढ़े हैवान की शैतानी करतूतों का पर्दाफाश 


DEEP KRISHAN SHUKLA 04/05/2019 15:09 PM
34 Views

Lucknow. कामांधता में कोई किस स्तर तक जा सकता है इसका अंदाजा भी लगाना मुश्किल है। ऐसा ही एक सनसनी मामला यूपी के मेरठ शहर में उजागर हुआ है। जहां बीमा कंपनी से सेवानिवृत्त 63 वर्षीय बुजुर्ग की हैवानियत सामने आई है। यह बूढ़ा हैवान न सिर्फ बच्चियों का यौन शोषण करता था बल्कि उनके विडिया रिकॉर्डिंग भी करता था। पिछले दो सालों से चल रहे उसके इस घिनौने खेल का खुलासा उस समय हुआ जब उसका एक विडियो वायरल हो गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। पेशी से वापस लौटते समय ​अधिवक्ताओं ने आरोपी की जमकर पिटाई की। इस सनसनीखेज मामले में पुलिस ने उसकी एक सहयोगी महिला के अलावा सीसीटीवी कैमरा लगाने वाले युवक को भी गिरफ्तार किया है। 

Evil deeds of old predators busted

यूपी के मेरठ में उस हड़कंप मच गया जब एक बच्ची से उसकी दादा के उम्र के बुजुर्ग के यौन शोषण का विडियो वायरल हुआ।

हरकत में आयी पुलिस ने पड़ताल करते हुए बीमा कंपनी से सेवानिवृत्त एक अधिकारी को हिरासत में ले लिया।

बताया जा रहा है कि छानबीन में यह खुलासा हुआ है कि आरोपी परवरिश का पूरा खर्च देने के नाम पर बच्चियों को अपना शिकार बनाता था।

पूछताछ में आरोपी ने 6 बच्चियों के यौन शोषण की बात कबूल की है। अभी तक पुलिस 3 बच्चियों से यौन शोषण की पुष्टि कर सकी है।

अकेले रहने वाला यह दरिन्दा अपने ही घर में बच्चियों के साथ ​हैवानियत का घिनौना खेल खेलता था।

Evil deeds of old predators busted

पुलिस ने उसके लिए बच्चियों को लाने वाली एक महिला को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस की शुरूआती जांच में यह बात सामने आयी है कि तीन बच्चियां और तीन युवतियां उसके यौन शोषण का शिकार हो चुकी हैं।

पुलिस को आशंका है कि पीड़ितों की संख्या और भी बढ़ सकती है। मेरठ एसएसपी नितिन तिवारी के मुताबिक पुलिस इस मामले में गंभीरता से कार्रवाई कर रही है।  

इस मामले में एक पीड़ित बच्ची की मां और चाइल्ड लाइन की अध्यक्ष अनीता राणा की तरफ से आरोपी विमल चंद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

सीसीटीवी की खराबी बनी खुलासे की सूत्रधार 

पुलिस के अनुसार सीसीटीवी खराब होना इस बड़े मामले के खुलासे का सूत्रधार बना। खराबी सही करने आए एक टेक्निशियन के हाथ सीसीटीवी के फुटेज लग गए, जिसे उसने लीक कर दिया। विडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मचने पर पुलिस की कार्रवाई में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। 

Evil deeds of old predators busted

  सीसीटीवी फुटेज से करता था ब्लैकमेल 

आरोपी विमल चंद ने अपने दो मंजिला घर में कुल 13 सीसीटीवी कैमरे लगा रखे थे। घर में हो रही सारी हरकतें इन कैमरों में कैद हो जाती थी। इन्हीं फुटेज के आधार पर आरोपी पीड़िताओं को धमकाकर उनका शोषण करता रहता था। 

  मूल रूप से उन्नाव का रहने वाला है आरोपी

मेरठ के मेडिकल थाने के जागृति विहार में रहने वाला विमल चंद मूलरूप से उन्नाव का निवासी है। वर्ष 2016 में हापुड़ से सहायक प्रशासनिक अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुआ था। उसकी एक बेटी भी है, जो शादी के बाद विदेश में हैं। उसकी पत्नी भी अधिकारी पद से सेवानिवृत्त हुई थी उसी वर्ष उसकी मौत हो गयी थी। 

Evil deeds of old predators busted

  देह व्यापार से जुड़े हो सकते है मामले के तार

बच्चियों के यौन शोषण के इस मामले में पुलिस हर पहलू से जांच कर रही है। मेरठ पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने आंशका जाहिर की है कि इस मामले के तार देह व्यापार से भी जुड़े हो सकते हैं। हलांकि यह जांच पूरी होने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा लेकिन जिस पर लड़कियां उसके पास भेजी जाती थी उससे किसी रैकेट के इस मामले से जुड़े होने की संभावनाओं को बल मिलता है। 

यह भी पढ़े...नक्सली हिंसा से ज्यादा अन्य कारणों से हो रही सीआरपीएफ जवानों की शहादत

 

 

 

 

 

Web Title: Evil deeds of old predators busted ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया