मुख्य समाचार
यूपी में औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के हर सम्भव किये जाये प्रयास : उपमुख्यमंत्री मायावती ने चला ये बड़ा दांव, नहीं गिरेगी कर्नाटक की सरकार! किसी दुर्घटना के इंतजार में चार दिन से पड़ा आंधी में गिरा यह पेड़ पहले निर्माण, अब चारे के नाम पर गोशालाओं में प्रधान कर रहे फर्जीवाड़ा इसरो की तैयारियां पूरी, सोमवार को होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण  कम नहीं हो रहीं आज़म खान की मुसीबतें, 3 और एफआईआर दर्ज छोटी सी गलती एक्टर को पड़ी भारी, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सोनभद्र: सीएम के दौरे को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा, पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी  सोशल मीडिया पर कहर ढा रहीं हॉट एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, देखें सिजलिंग तस्वीरें लखनऊ: मुठभेड़ में टिंकू नेपाली गैंग के सरगना समेत तीन गिरफ्तार, दो सिपाही जख्मी मलाइका की सिजलिंग फोटो देख खुद पर काबू नहीं रख पाए आर्जुन कपूर, कर दिया ऐसा कमेंट... यूपी में बदमाशों के हौसले बुलंद, भाजपा नेता को गोलियों से भूना दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर भागे कैदियों में एक को मुठभेड़ में पुलिस ने किया ढेर
 

रोजेदारों पर बरसेगी खुदा की रहमत, आज दिखेगा चांद


NAZO ALI SHEIKH 06/05/2019 10:36:37
153 Views

Lucknow. हर सच्चा मुसलमान रमजान के पवित्र महीने में रोजा जरूर रखता है। यह महीना बहुत ही पाक होता है। कहते हैं कि जो भी सच्चे मन से रोजा रखता है, खुदा की उस पर रहमत बरसती है। उम्मीद लगाया जा रहा था कि आज ही रमजान का पहला रोजा हो सकता है। लेकिन चांद नहीं दिखने के कारण रोजे का महीना अब कल से ही शुरू होगा। हालांकि, तरावीह शुरू हो जाएगी। 

यह भी पढ़ें... डीयू में प्रवेश के लिए कट-ऑफ बढ़ने की संभावना

Today, the moon will be seen ramadan will start tomarrow

आपको बता दें कि जैसे हर मुसलमान के लिए नामज पढ़ना एक फर्ज की तरह है। सभी नियमों से जो भी नमाज को पढ़ता है, उस पर अल्लाह की मेहरबानी हमेशा ही बनी रहती है। इसी तरह से सभी मुसलमानों के लिए रोजा रखना भी खुदा ने फर्ज ही करार दिया है। पाक कुरान में भी इसका जिक्र किया हुआ है। रोजे के महीने को खुदा की रहमत का महीना माना जाता है। 

सबसे अहम बात ये है कि भीषण गर्मी में भी रोजेदार प्यास, भूख सबकुछ छोड़ खुदा की शरण में चला जाता है। रोजेदारों के आगे दुनिया की कितनी भी प्यारी चीज क्यों न रख दी जाए वह उसे हथ तक नहीं लगाता। खुदा में लीन होने और उसके नजदीक पहुंचने का यही महीना मात्र ऐसा माना जाता है। भूख-प्यास की तड़प के बीच जबान से रूह तक पहुंचने वाली खुदा की इबादत हर मोमिन को उसका खास बना देती है।

Today, the moon will be seen ramadan will start tomarrow

वैसे तो आम दिनों में हर कोई इसी बात पर ध्यान देता है कि क्या अच्छा खाया और पहना जाए। या यूं कहें कि जिस्मानी हर शौक और जरूरतों को इंसान पूरा करता है। लेकिन हकीकत और असल जिंदगी तो इंसान की रूह होती है। जिसकी तरबीयत और पाकीजगी के लिए खुदा ने पाक रमजान का महीना बनाया है। इन महीनों में मन से रोजा रखकर अपने सभी पापों का रोजदार प्रायश्चित करता है। अल्लाह की रहमत भी रोजदार पर खूब बरसती है। 

Today, the moon will be seen ramadan will start tomarrow

रामजान के इस पवित्र महीने को तीन अशरों (हिस्सों) में बांटा गया है। जिसमें पहला 'रहमत' का ही माना जाता है। इसमें अल्लाह रहमत बरसाता है। दूसरा 'बरकत' का होता है। इसमें अल्लाह अपने बंदों पर बरकत नाजिल करता है। वहीं, तीसरा 'मगफिरत' का मानाया गया है। इसमें खुदा अपने सभी सच्चे बंदों को हर तरह के पापों से मुक्त कर पाक कर देता है।

यह भी पढ़ें... प्रतिबंध हटते ही हमलावर हुए आज़म खान, कहा- राहुल को भी मिले सजा

ऐसा भी माना जाता है कि आम दिनों में तो खुदा अपने बंदों को 10 नेकी देता है। लेकिन रमजान के पवित्र महीने में एक नेकी के बदले 70 नेकियां मिली है। रामजान में रोजा रखकर अल्लाह के बंदे अपने आपको गलत कामों को करने से रोकते हैं, और जीवन भर इसी प्रयास को पूरा करने में लगे रहते हैं। बता दें कि गलत कामों से खुद को रोकने को शरीअत में तकवा कहा गया है। जैसे यदि रोजेदार को कितनी भी प्यास गर्मी में क्यों न लगी हो वह खुद को रोक लेता है। बात कितनी भी गलत हो अपने गुस्से को रोक लेता है। झूठ बोलने जैसी किसी भी बात से हमेशा दूर रहता है।

Web Title: Today, the moon will be seen ramadan will start tomarrow ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया