पिता ने बेटी और दामाद को जिंदा जलाया, जानिए क्या थी वजह


DEEP KRISHAN SHUKLA 07/05/2019 10:00:20
84 Views

Mumbai. महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। अंतर्जातीय विवाह से खफा एक पिता ने बेटी समेत दामाद को जिंदा जला दिया। इस हादसे में बेटी ने जहां उपचार के दौरान दम तोड़ दिया, वहीं 40 फीसदी झुलसा दामाद जिंदगी और मौत के जूझ रहा है। 

Father burnt daughter and son-in-law alive, know what was the reason

महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के पारनेर तालुका के निघोज गांव की रहने वाली रुक्मणि भरतिया (23) ने छह माह पूर्व मंगेश चंद्रकांत राणासिंह (23) से अंतर्जातीय विवाह किया था। 

यह बात उसके पिता और अन्य रिश्तेदारों को नागवार गुजरी, जिससे सभी नाराज थे। पेशे से दिहाड़ी मजदूर रणधीर लोहार बिरादरी का है जबकि रुक्मणि पासी बिरादरी से है। 

Father burnt daughter and son-in-law alive, know what was the reason

दोनों के बीच बीते सप्ताह किसी बात को लेकर अनबन हुई, जिस पर रुक्मणि अपने पिता के घर चली आयी। उसे लेने आए मंगेश उर्फ राणासिंह का किसी बात को लेकर पिता रमा भरतिया से विवाद हो गया।  जिस पर तैस में आकर रमा ने अपने भाई सुरेंद्र भरतिया और साले घनश्याम सरोज की मदद से बेटी और दामाद दोनों पर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी। आग की लपटों से घिरे जोड़े की चीख पुकार सुनकर दौड़े पड़ोसियों ने आग बुझा कर दोनों को पुणे के ससून अस्पताल पहुंचाया। 

Father burnt daughter and son-in-law alive, know what was the reason

जहां रुक्मणी की उपचार के दौरान मौत हो गयी। मंगेश उर्फ राणासिंह अस्पताल में जिंदगी और मौत के  बीच जूझ रहा है। चिकित्सकों के मुताबिक वह 40 फीसदी झुलस चुका है। पुलिस को दिए गए बयान में उसने रुक्मणि के पिता और चाचा को आरोपी बताया है। 

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आईपीसी की धारा 302 और 307 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। सुरेंद्र भरतिया और घनश्याम सरोज को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि फरार चल रहे रमा भरतिया की तलाश में उसके मिलने के संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। जल्द ही उसकी भी गिरफ्तारी की बात पुलिस ने कही है। 

यह भी पढ़े...जिन्दा व्यक्ति को मृतक बताकर मताधिकार से किया वंचित

Web Title: Father burnt daughter and son-in-law alive, know what was the reason ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया