मुख्य समाचार
KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था सेक्स रैकेट, इस तरह पुलिस ने किया पर्दाफाश मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को पार्टी से किया बाहर मौसी के घर आयी बच्ची का तालाब में उतराता मिला शव साढ़े छह लाख की शराब के साथ एसटीएफ के हत्थे चढे़ दो तस्कर 28वीं पुण्य तिथि पर याद किए गए पूर्व पीएम राजीव गांधी BSP की जगह BJP को वोट देना महिला को पड़ा भारी, पति ने फावड़े से काटकर की हत्या पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता  लोकसभा चुनाव खत्म होते ही बंद हुआ नमो टीवी, भाजपा ने दिए थे इतने लाख रुपए सीडीओ ने देवलान गौशाला का किया निरीक्षण बड़ा मंगल दे रहा है दस्तक, लखनऊ मेट्रो की सवारी कर बचें धूप और जाम से आजम खान के खिलाफ आचार संहिला उल्लंघन के 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल
 

एस्कॉर्ट न मिलने से नाराज पीएम नरेंद्र मोदी के भाई थाने के सामने धरने पर बैठें


DEEP KRISHAN SHUKLA 15/05/2019 12:48:00
20 Views

New Delhi. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रहलाद मोदी को पुलिस ने एस्कॉर्ट नहीं उपलब्ध कराया तो वह थाने के सामने धरने पर बैठ गए। तमाम मान मनौव्वल और नियमों का हवाला देकर किसी तरह पुलिस कमिश्नर ने मामला शांत कराया। तकरीबन एक घंटे तक यह ड्रामा चलता रहा। मामला जयपुर अजमेर हाइवे पर बगरू थाना क्षेत्र का है।

PM Narendra Modi
मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रहलाद मोदी मंगलवार की रात जयपुर से हरिद्वार जा रहे थें।उन्होने जयपुर अजमेर हाइवे पर बगरू थाने में अपने वाहन के साथ एस्कार्ट की मांग की। थाना पुलिस ने इसे नियम विरूद्ध बताते हुए हाथ खड़े कर दिए। 
इससे नाराज होकर वह थाने के सामने धरने पर बैठ गए। उनके धरने की बात जब उच्चाधिकारियों को पता चली तो हड़कम्प मच गया। 
पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव के मुताबिक उन्हें नियमानुसार दो पीएसओ उपलब्ध कराए गए थे जिन्हें संबंधित व्यक्ति की गाड़ी में ही बैठना होता है। 
प्रहलाद मोदी इस पर राजी नहीं थें उनकी मांग थी कि उनके वाहन के साथ एस्कार्ट भेजा जाए। नियमानुसार वह एस्कॉर्ट उपलब्ध कराने के पात्र नहीं थे। 
हलांकि नियमों का हवाला देते हुए काफी देर तक समझाने के बाद आखिरकार वह मान गए। उन्हें जो दो सुरक्षाकर्मी उपलब्ध कराए गए थें उन्हें वह अपनी गाड़ी में बैठा कर रवाना हो गए। उनका धरना तकरीबन एक घंटे तक चला। 

यह भी पढ़े...वर्ल्ड कप में पहली बार हर टीम के साथ होगा एंटी करप्शन ऑफिसर

Web Title: PM Narendra Modi's brother sit on strike in front of the police station in anger of not getting escort ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया