मुख्य समाचार
किसी दुर्घटना के इंतजार में चार दिन से पड़ा आंधी में गिरा यह पेड़ पहले निर्माण, अब चारे के नाम पर गोशालाओं में प्रधान कर रहे फर्जीवाड़ा इसरो की तैयारियां पूरी, सोमवार को होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण  कम नहीं हो रहीं आज़म खान की मुसीबतें, 3 और एफआईआर दर्ज छोटी सी गलती एक्टर को पड़ी भारी, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सोनभद्र: सीएम के दौरे को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा, पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी  सोशल मीडिया पर कहर ढा रहीं हॉट एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, देखें सिजलिंग तस्वीरें लखनऊ: मुठभेड़ में टिंकू नेपाली गैंग के सरगना समेत तीन गिरफ्तार, दो सिपाही जख्मी मलाइका की सिजलिंग फोटो देख खुद पर काबू नहीं रख पाए आर्जुन कपूर, कर दिया ऐसा कमेंट... यूपी में बदमाशों के हौसले बुलंद, भाजपा नेता को गोलियों से भूना दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर भागे कैदियों में एक को मुठभेड़ में पुलिस ने किया ढेर
 

दहेज के लिए ट्रिपल तलाक देकर घर से निकाली गई मुस्लिम महिला पहुंची सुप्रीम कोर्ट


SUJEET KUMAR 16/05/2019 14:01:09
26 Views

New Delhi. दहेज के लिए तीन तलाक देकर घर से निकाली गई दिल्ली की एक मुस्लिम महिला ने सुप्रीम कोर्ट से इंसाफ की गुहार लगाई है। पीड़िता ने कोर्ट में याचिका दायर कर ससुराल वालों के खिलाफ नए कानून के तहत एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। कोर्ट शुक्रवार को इस मामले पर सुनवाई करेगी। महिला ने अपनी याचिका में कहा है कि पति और सुसराल वाले दहेज के लिए मारते थे और तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया। 

triple talaq victim reached supremecourt hearing will be tomorrow

वहीं कोर्ट के फैसले और सरकार के अध्यादेश के बाद यह अपराध है ऐसे में पति और ससुराल वालों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए कोर्ट कल सुनवाई करेगा। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले और सरकार के बाद एक बार में तीन तलाक़ अपराध घोषित किया जा चुका है।

महिला का आरोप है कि उसके पति ने उसे गैर कानूनी तरीके से तलाक दिया है। महिला ने कोर्ट से तीन तलाक अध्यादेश में कार्रवाई की भी मांग की है। 32 वर्षीय महिला ने पति पर उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। महिला ने कोर्ट से गुजारिश की है कि इस तालक को गैर- कानूनी घोषित किया जाए और इस मामले में कार्रवाई की जाए। 

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने तीन तलाक के संबंध में जो ताजा अध्यादेश लाया गया है उसमें ऐसे तलाक को अवैध माना गया है। यहां तक कि फोन पर या वाट्सएप पर दिया गया तलाक गैरकानूनी है। 

 

Web Title: triple talaq victim reached supremecourt hearing will be tomorrow ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया