मुख्य समाचार
पाकिस्तान: आतंकी हाफिज का कानूनी पैतरा, कोर्ट को बताया लश्कर से नहीं कोई वास्ता  जापानी इंसेफलाइटिस पर योगी सरकार ने हासिल की बड़ी कामयाबी : भाजपा लखनऊ: HDFC बैंक का कारनामा, अवैध तरीके से ग्राहकों से वसूल रहा रुपए मुख्यमंत्री ने बाल श्रम से मुक्ति के लिए जनप्रतिनिधियों से मांगा सहयोग हरियाणा की बेटी बनेगी इस पाक क्रिकेटर की दुल्हन... एयरस्ट्राइक के समय ही पूरे युद्ध के लिए तैयार थी भारतीय सेना जनता की समस्याओं का किया जाए त्वरित गति से निदान : केशव प्रसाद वृक्षारोपण के साथ ही पौधों को सुरक्षित एवं संरक्षित करना सभी की जिम्मेदारी : मंत्री  मिशन चंद्रयान-2: भारत को मिली बड़ी उपलब्धि शुरू होने जा रहा देश का पहला वैदिक शिक्षा बोर्ड, रामदेव होंगे अध्यक्ष यूपी में बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितना हुआ महंगा अगस्ता वेस्टलैंड केस: कमलनाथ के भांजे को ED ने किया गिरफ्तार सफारी से टक्कर 2 दोस्तों की हत्या : 3 अभियुक्त गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी आर्थिक सुस्ती पर रघुराम राजन ने जताई चिंता, कहा-सरकार जल्द करे सुधार अभी-अभी: नहीं रहे कांग्रेस के ये दिग्गज नेता, पार्टी में मचा कोहराम
 

श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा


DEEP KRISHAN SHUKLA 26/05/2019 11:04:48
60 Views

Unnao. पड़ोसी जनपद उन्नाव के औद्योगिक क्षेत्र बंथर स्थित एक चर्म निर्यातक फैक्ट्री में एक श्रमिक की संदिग्ध हालातों में मौत हो गयी। परिजनों और ग्रामीणों के साथ साथी कर्मचारियों ने युवक को केमिकल पिला कर मार डालने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा काटा। 10 रुपए मुआवजे की मांग को लेकर फैक्ट्री प्रबंधन और परिजनों के बीच तकरीबन 5 घंटों तक वार्ता का दौर चलता रहा। बवाल बढ़ता देख आखिरकार प्रबंधन को परिजनों की मांग माननी पड़ी तब जाकर मामला शांत हुआ। इस दौरान फैक्ट्री के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात रहा। 

Suspicious death of the worker, kin rucus on demand of compensation
मिली जानकारी के मुताबिक उन्नाव के अचलगंज थाना क्षेत्र के मोहद्दीनपुर गांव का रहने वाला रामविलास लोधी (35) पुत्र श्यामलाल बंथर स्थित मैसर्स सुपर हाउस के शू डिवीजन में काम करता था। 
इसी फैक्ट्री में उसका छोटा भाई राकेश भी काम करता है। राकेश के मुताबिक उसका भाई शनिवार की दोपहर उसके पास लड़खड़ाते हुए पहुंचा। 
जिस पर उसने फैक्ट्री प्रबंधन को सूचना भी दी लेकिन किसी प्रकार की चिकित्सकीय सहायता दिलाने की फैक्ट्री की ओर से कोई मदद न मिलती देख उसने एक सहकर्मी की स्कूटी ली। 
इसके बाद वह भाई को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा जहां डॉक्टर ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। शाम तकरीबन पांच बजे अन्य कर्मियों के साथ वह भाई के शव को लेकर फैक्ट्री पहुंचा। इसी बीच परिवार के लोग भी ग्रामीणों के साथ फैक्ट्री गेट पर पहुंच गए। 

Suspicious death of the worker, kin rucus on demand of compensation
कारखानों की छुट्टी का समय होने के कारण आस पास के अन्य कारखानों के श्रमिक भी वहां पर जमा हो गए। परिजनों और ग्रामीणों ने रामविलास को केमिकल पिला कर मार डालने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। 
इसकी सूचना मिलते ही अचलगंज थानाध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया। 
मामला ज्यादा लम्बा खिंचता देख एसडीएम दिनेश कुमार भी मौके पर पहुंच गए। फैक्ट्री प्रबंधन से वार्ता के बाद श्रमिक के परिवार को परिजनों की मांग के अनुरूप 10 लाख रुपए का मुआवजा दिलाने की बात पर सहमति बनी। 
थानाध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी के मुताबिक 9 लाख रुपए की चेक और एक लाख रुपए की नकद धनराशि परिजनों को प्रबंधन ने मुआवजे के तौर पर दी है। इसके बाद शव को कब्जे में लेते हुए पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया। 


यह भी पढ़े...इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा

 

 

 

Web Title: Suspicious death of the worker, kin rucus on demand of compensation ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया