पीएम मोदी ने पूरा किया वायदा, जल​शक्ति मंत्रालय का हुआ गठन


DEEP KRISHAN SHUKLA 01/06/2019 09:25:43
276 Views

New Delhi. मंत्रिमंडल के गठन और विभागों के बंटवारे के साथ ही मोदी कैबिनेट ने जनता से किए गए वायदों की दिशा में पहल शुरू कर दी है। अपनी चुनावी घोषणा को पूरा करते हुए पीएम मोदी ने पहली बार देश में जलशक्ति मंत्रालय का गठन किया है। इस नए मंत्रालय का दारोमदार कैबिनेट मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को सौंपा गया है। 

PM Modi completes his futures, formed water power ministry
ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव के दौरान दौरान जारी किए गए घोषणा पत्र में पेयजल संकट के निपटारे के लिए जलशक्ति मंत्रालय का गठन करने का वायदा किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि देशवाशियों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराना इस मंत्रालय की अहम जिम्मेदारी होगी। 

PM Modi completes his futures, formed water power ministry
उन्होंने कहा था कि देश की जनता का यह अधिकार है कि उसे पीने के लिए स्वच्छ पानी उपलब्ध हो। अपने इसी वायदे को पूरा करने की दिशा में मोदी कैबिनेट ने मंत्रिमंडल की पहली ही बैठक में पहल करते हुए जलशक्ति मंत्रालय का गठन कर दिया है। 
राजस्थान की जोधपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी कैबिनेट में शामिल किया है। 

PM Modi completes his futures, formed water power ministry
गजेंद्र सिंह को ही इस नवगठित मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। बता दें कि गजेंद्र सिंह शेखावत जिस संसदीय क्षेत्र से चुने गए है वहां से राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत कांग्रेस से चुनाव लड़ रहे थें। 
उन्हें हराने के कारण प्रधानमंत्री मोदी ने शेखावत को पुरस्कार स्वरूप मंत्रिमंडल में जगह दी है। अब देखना यह होगा कि यह नया जलशक्ति मंत्रालय किस तरह पेयजल संकट के निराकरण की दिशा में काम करता है। 

यह भी पढ़े...लोकसभा चुनाव में हार के बाद कर्नाटक में कांग्रेस का शानदार प्रदर्शन, जीतीं सबसे ज्यादा सीटें

 

 

 

 

Web Title: PM Modi completes his futures, formed water power ministry ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया