5जी को लेकर यूएस और चीन के बीच युद्ध जारी


ANKUR SHARMA 07/06/2019 13:22:17
213 Views

Mumbai. निश्चित रूप से 4G के आने से हैंडहेल्ड डिवाइसेज का परफॉर्मेंस बेहतर और तेज हुआ है, लेकिन अगर 5G की बात करें तो न केवल यह फास्ट होगा, बल्कि यह चिप वाले सभी डिवाइसेज को हर समय नेटवर्क से जोड़े रखेगा। 5G नेटवर्क में आपका स्मार्टफोन, टैबलेट, टेलिविजन, होम सिक्यॉरिटी सिस्टम, रेफ्रिजरेटर, कार आदि सब चीजें जुड़ी रह सकती हैं। अगर डाउनलोड स्पीड के मामले में 4G और 5G की तुलना करें तो जहां 4G की डाउनलोड स्पीड 1Gb/S है। वहीं, 5G की डाउनलोड स्पीड 20Gb/S होगी। यह 4G के मुताबिक, 20 गुना ज्यादा है। यह इतना तेज है कि आप एक HD मूवी महज 40 सेकंड में डाउनलोड कर पाएंगे।

07-06-20191334065Gwarbetween1

आजकल सड़कों पर बड़े हादसे हो रहे हैं। इसको ध्यान में रखते हुए ड्राइवरलेस कारों और फिक्स्ड इंफ्रास्ट्रक्चर के बीच डेटा साझा करने के बाद गाड़ियों के बीच होने वाली टक्करों को बचाया जा सकता है। 5जी के आने से इसका उपयोग हर एक फील्ड में हो पाएगा, जैसे मोबाइल टेक्नोलॉजी वियरेबल डिवाइसेज को सपॉर्ट करेगी, जिससे मरीजों को मॉनिटर करने के साथ हाई-डेफिनिशन विडियो के चलते ऑनलाइन कंसल्टेशन संभव होगा। गेमिंग के अलावा, टेलिमेडिसिन, एजुकेशन और मैन्युफैक्चरिंग जैसे दूसरे सेगमेंट में वर्चुअल रियल्टी और एग्युमेंटेड रियल्टी का इस्तेमाल हो सकेगा। इसके चलते हर एक क्षेत्र में बढ़ौतरी होगी।

इतने सब फायदे होने से आप अब समझ सकते हैं ​कि जिस देश में पहले यह 5G मोबाइल टेक्नॉलजी आएगी, उसे कितने अधिक आर्थिक फायदे होंगे। इसी को लेकर अमेरिका और चीन में जंग चल रही है। यह लड़ाई काफी लंबे समय से चलती आ रही है, पहले हुवावे को लेकर और अब 5G को लेकर है। अमेरिका में इस साल 5G का पहला डेप्लॉयमेंट अभी चल रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2023 तक चीन की टेलिकॉम कंपनियों का 5G का कंबाइंड स्पेंड 45.3 अरब डॉलर पहुंच जाएगा। जापान में 2020 में 5G की कमर्शियल शुरुआत हो सकती है।

Web Title: 5G war between US and China ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया