पश्चिम बंगाल में नहीं थम रही राजनीतिक हिंसा, पेड़ से लटकते मिले भाजपा और आरएसएस कार्यकर्ता के शव


DEEP KRISHAN SHUKLA 11/06/2019 11:24:27
101 Views

New Delhi. राजनीतिक हिंसा में सुलग रहे पश्चिम बंगाल में स्थितियां बद से बदतर होती जा रही है। इस हिंसा की आग में तप रहे राज्य में हत्याओं का सिलसिला जारी है। सोमवार भाजपा और आरएसएस कार्यकताओं के शव पेड़ से लटकते मिलने से माहौल और खराब हो गया। 

11-06-2019120010Politicalviol1
हावड़ा के सरपोता गांव में लोगों ने भाजपा कार्यकर्ता समातुल दोलुई का शव खेतों में पेड़ से लटकता देखा। परिवार के लोगों ने टीएमसी पर हत्या का अरोप लगाया है। 
भाजपा के हावड़ा ग्रामीण अध्यक्ष अनुपम मलिक के मुताबिक दोलुई एक सक्रिय सदस्य थे उनके बूथ पर पार्टी को लोकसभा चुनाव में बढ़त मिली थी। 
उनका अरोप है कि इलाके में जय श्रीराम की रैली निकालने के बाद से ही उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही थी। यही नहीं मलिक ने टीएमसी पर दोलुई के घर पर तोड़फोड़ करने का आरोप भी टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लगाया है। 
बताया जा रहा है कि जब दोलुई के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया जा रहा था उस दौरान कुछ अराजक तत्वों ने शव छीनने की कोशिश भी ​की। 
इससे ठीक एक दिन पहले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ नेता मन्ना का शव भी अत्चाता गांव में पेड़ से लटकता पाया गया था। 

11-06-2019120028Politicalviol2
राजनीतिक हितों को साधने में लगी पार्टियां एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा कर इस आग को और भड़काने का काम कर रही हैं। 
भाजपा पूरी घटना के लिए जहां टीएमसी को आरोपी बता रही है। वहीं दूसरी टीएमसी इसका दोष भाजपा पर मढ रही है। 
इस हिंसा का दोषी कौन है यह तो जांच का विषय है पर जो परिस्थितियां पश्चिम बंगाल में है वह सुखद भविष्य की कामना करने वालों के लिए शुभ संकेत नहीं है। 
तृणमूल कांग्रेस के विधायक पुलक रॉय ने इस मामले में सफाई देते हुए इन हत्याओं के पीछे पार्टी के कार्यकर्ताओं पर लगाए जा रहे आरोपों का खंडन किया है। उनका कहना है कि भाजपा शाजिश के तहत ऐसा कर रही है। 

यह भी पढ़े...गब्बर को आई चोट टीम इंडिया की बढ़ सकती है मुश्किलें

Web Title: Political violence prevailed in West Bengal, dead body of BJP and RSS worker dead ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया