पीएम मोदी का प्रधानों को संदेश : वर्षा का जल ईश्वर का आर्शीवाद, इसे सुरक्षित करें


DEEP KRISHAN SHUKLA 15/06/2019 14:37:16
40 Views

New Delhi. ग्रामीण इलाकों में लगातार गिरते भूगर्भ जल स्तर से गहराते संकट पर पीएम मोदी बेहद संजीदा हैं। उन्होंने इस समस्या के निवारण के लिए खास तौर से ग्राम प्रधानों को चिट्ठी लिख कर वर्षा जल संचयन करने की अपील की है। प्रधानमंत्री के हस्ताक्षर युक्त इन पत्रों का वितरण संबंधित जिलों के कलेक्टरों ने अपने हाथों से किया है। 

15-06-2019144132PMModismess1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और सोनभद्र जिलों में ग्राम प्रधानों को बांटे गए ये पत्र खासी चर्चा का विषय बने हैं। इन पत्रों में पीएम मोदी ने प्रधानों से अनुरोध किया है कि इस मानसून में वे ग्रामीणों को वर्षा का जल संचय करने के लिए प्रोत्साहित करें। 

इस पत्र के मजमून पर गौर करें बेहद ही व्यक्तिगत और अपनेपन की भाषा का प्रयोग इनमें किया गया है। 
प्रिय सरपंचजी, नमस्कार से शुरू हुए इस पत्र में व्यक्तिगत कुशलक्षेम के साथ वर्षा के जल को ईश्वर का आर्शीवाद बताया गया है। 

इस आर्शीवाद को किस तरह सुरक्षित किया जाए इसके प्रति प्रधानों की जिम्मेदारी को अहसास कराते हुए उनसे ग्रामीणों की बैठक बुलाकर उन्हें इसके प्रति जागरूक करने की बात कही गयी है। 

15-06-2019144149PMModismess2

प्रधानमंत्री मोदी ने गांवों में आवश्यकतानुसार चेक डैम और तालाबों के निर्माण का भी सुझाव दिया है। वर्षा जल संरक्षण को लेकर जिला स्तर पर तैयारियां भी शुरू कर दी गयी हैं। ग्रामीण इलाकों में तालाब खोदने की योजनाएं वृहद स्तर पर तैयार की जा रही हैं। 

मालूम हो कि शुक्रवार को नीति आयोग परिषद की महत्वपूर्ण बैठक होनी हैं। इस बैठक में प्रधानमंत्री देश के प्रमुख हिस्से में ग्रामीण क्षेत्रों को प्रभावित करने वाले जल संकट से निपटने के लिए वर्षा जल संचयन की आवश्यकता को रेखांकित करेंगे।  

प्रधानमंत्री के निर्देश पर नवगठित मंत्रालय जल शक्ति ने देश के जल संकट की समीक्षा के लिए हाल ही में सभी राज्यों के मंत्रियों की एक अंतर-राज्यीय बैठक भी बुलाई गयी थी। 

यह भी पढ़ें...शत्रुघ्न सिन्हा ने की मोदी की तारीफ, ट्वीट के जरिए दी बधाई

Web Title: PM Modi's message to the Pradhans: Rain water is God's blessing, protect it   ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया