रेल यात्रियों को सफर में मसाज सेवा देने की योजना पर लगा ग्रहण, जानिए क्या रही वजह


DEEP KRISHAN SHUKLA 16/06/2019 09:39:29
91 Views

New Delhi. ट्रेनों के यात्रियों को मसाज सेवा पर शुरू होने से पहले ही ग्रहण लग गया। एक सांसद द्वारा रेल मंत्री से भारतीय संस्कृति का हवाला देते हुए इस सेवा पर आपत्ति जताई थी। इसके बाद रेलवे ने यह नवाचारी योजना रद्द कर दी है।  

16-06-2019094308Eclipseonrai1
मालूम हो कि बीते दिनों यह घोषणा हुई थी कि इंदौर से चलने वाले 39 रेल गाड़ियों में यात्रियों को मसाज की सुविधा देकर रेलवे अपने राजस्व में वृद्धि करेगा। 
इस घोषणा के बाद इसके पक्ष और विपक्ष में प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हुआ था। इसी बीच इंदौर से नवनिर्वाचित भाजपा सांसद शंकर लालवानी ने महिला यात्रियों की मौजूदगी में यात्रियों को मसाज सेवाएं मुहैया कराने को भारतीय संस्कृति के खिलाफ बताया। 

16-06-2019094329Eclipseonrai2
उन्होंने रेल मंत्री पियूष गोयल को पत्र लिख कर रेलवे की इस नवाचारी मालिश सेवा को स्तरहीन बताते हुए आपत्ति जताई और इसे रोकने की मांग की थी। 
शनिवार को रेलवे ने इस प्रस्तावित योजना को रद्द कर दिया। रेलवे के बयान में कहा गया है कि इंदौर से शुरू होने वाली ट्रेनों में मसाज सेवाओं का प्रस्ताव पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल द्वारा शुरू किया गया था। 

16-06-2019094349Eclipseonrai3
जैसे ही यह प्रस्ताव पश्चिम रेलवे के उच्च अधिकारियों के संज्ञान में आया तो तत्काल इसे वापस लेने का फैसला लिया गया है। 
इस सेवा के शुरू होने से पहले ही रद्द होने से उन तमाम यात्रियों में मायूसी छा गयी है जो सफर के साथ साथ मसाज की सुविधा मिलने की सूचना मिलने से उत्साहित थें। 

यह भी पढ़ें...फडणवीस मंत्रिमंडल का विस्तार आज, जानिए किसे मिल सकती है जगह और कौन होगा बाहर

 

 

 

 

Web Title: Eclipse on rail passengers to plan for massage services, know what is the reasons  ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया