पौधरोपण को अपनी दिनचर्या में करें शामिल : डॉ. पी.के. त्रिपाठी


RAJNISH KUMAR 17/06/2019 14:51:37
128 Views

Lucknow. यूनाइट फाउण्डेशन ने 'पर्यावरण संरक्षण और सामाजिक सहभागिता' कार्यक्रम के चौथे दिन यानि 17 जून को राजधानी के जानकीपुरम् सेक्टर जी स्थित वृंदावन वाटिका पार्क में स्थानीय नागरिकों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक किया। इसके साथ ही बच्चों के साथ स्थानीय नागरिकों ने लीची खाकर उनके बीजों को रोपित भी किया। बता दें कि इसी कड़ी में 18 जून, 2019 को जानकीपुरम् के सेक्टर जी स्थित शनि पार्क निकट पोस्ट आफिस में समाधान फाउण्डेशन के महासचिव अरुणेन्द्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में यह अभियान चलाया जाएगा। 

17-06-2019145334Plantinginyo1

कार्यक्रम के दौरान समाजसेवी राम लखन मौर्य ने वृंदावन वाटिका पार्क की सुंदरता को लेकर बताया कि यह सब स्थानीय नागरिकों के आपसी सहयोग से ही सम्भव हो सका है। उन्होंने कहा कि वृंदावन वाटिका पार्क एक विशेष वाटिका है। इस पार्क में स्थानीय लोगों के आपसी सहयोग से  शतावर, ऋतुकुमारी, कालमेघ, अश्वगंधा, बेल, हरसिंगार, पुदीना, आंवला, अमरूद, रूद्राक्ष, इलाइची, आम जैसे पौधों के साथ-साथ छायादार, फलदार और सजावट वाले पौधे की लगाए गए हैं, जिसकी देखरेख स्थानीय लोग आपसी सहयोग से ही करते हैं। उन्होंने बताया कि इस वृंदावन वाटिका पार्क को देखकर अन्य लोगों में भी पर्यावरण संरक्षण को लेकर काफी जागरूकता आई है।

17-06-2019145340Plantinginyo2

एनीमल वेलफेयर बोर्ड आफ इण्डिया के स्टेट ऑनरेरी वेलफेयर आफीसर एवं यूनाइट फाउण्डेशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पी.के. त्रिपाठी ने प्रदूषित पर्यावरण को लेकर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पर्यावरण प्रदूषण की समस्या इतनी व्यापक हो चुकी है कि किसी अकेले के प्रयास से इसका समाधान संभव नहीं है। ऐसे में हमें पौधरोपण को अपनी दिनचर्या में शामिल करना होगा। इसके साथ ही उन्होंने पशु-पक्षियों के लिए भी दाना-पानी की व्यवस्था करने की अपील की। उन्होंने कहा कि गर्मी में अपने घरों की छत पर पक्षियों के लिए दाना—पानी रख दें, जिससे भीषण गर्मी में उन्हें राहत मिल सके।

आचार्य चंद्रभूषण तिवारी (पेड़ वाले बाबा) ने बढ़ते तापमान को लेकर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि बेमौसम बरसात बदलता हुआ मौसम और धरती का बढ़ता तापमान ग्लोबल वार्मिग का ही नतीजा है। पृथ्वी का तापमान बढ़ना खतरे की घंटी है। इसलिए हम सभी को तापमान नियंत्रित करने के लिए पेड़ों से दोस्ती करनी होगी, अधिक से अधिक पौधरोपण करना होगा। उन्होंने कहा कि पेड़ों को अपनी बेटी मानकर उनकी रक्षा भी करनी होगी, जिससे आपको पुण्य की भी प्राप्ति होगी।

17-06-2019145354Plantinginyo4

यूनाइट फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष राधेश्याम दीक्षित ने बताया कि महापौर संयुक्ता भाटिया ने शहर के नागरिकों से आवाहन किया है कि जो भी पौधे लगा रहे हैं, उन्हें नगर निगम पौधे देगा। इसके साथ ही उन पौधों की सुरक्षा करने और उन्हें पानी देने का भी काम करेगा। इसके लिए नगर निगम को एक पत्र के जरिए सूचना देनी होगी। संयुक्ता भाटिया ने कहा कि हरियाली, स्वच्छता और आपसी सद्भाव ​के मामले में देश के सभी शहरों में से एक लखनऊ शहर का नाम भी शामिल हो, ये उनका संकल्प है।

राधेश्याम दीक्षित ने बताया कि यूनाइट फाउण्डेशन के इस महाअभियान से आ रही व्यापक जन जागरूकता और जनभागीदारी को देखते हुए हेल्पलाइन नम्बर 7376161616 जारी किया है, जिससे जो भी नागरिक पौधरोपण में शामिल होना चाहते हैं, वो अपनी सूचना व्हाट्सऐप के जरिए दे सकते हैं। फाउण्डेशन के सदस्य और सहयोगी संगठन उन तक पहुंचेंगे और पर्यावरण संरक्षण के इस महाअभियान में उन्हें शामिल करेंगे। उन्होंने कहा कि यूनाइट फाउण्डेशन ने नए सत्र में सभी स्कूलों को इस महाअभियान में शामिल करने की योजना बनाई है। इसके तहत स्कूली बच्चों को यूनाइट पर्यावरण प्रहरी बनाकर समाज को जागरूक करने का काम करेगा।

17-06-2019145346Plantinginyo3

वहीं, उद्यान विभाग ने भी यूनाइट फाउण्डेशन को भरोसा दिया है कि पर्यावरण संरक्षण के लिए जो भी नागरिक आगे आना चाहते हैं, उनको फलदार पौधे उपलब्ध कराएगा। इसके साथ ही उनके संरक्षण को लेकर भी मदद करेगा। इस कार्यक्रम के मौके पर अरूणेन्द्र श्रीवास्तव, राम लखन मौर्य, अशोक कुमार सहित स्थानीय नागरिक और बच्चे मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें...

राजधानी के सभी वार्डों को हरा-भरा बनाने के लिए वन विभाग के सहयोग से 50 लाख पौधे लगाएगा यूनाइट फाउण्डेशन

भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए पर्यावरण का संरक्षण जरूरी : आचार्य चंद्रभूषण तिवारी

अपने घरों में लगाएं औषधीय पौधे, पूरा परिवार रहेगा स्वस्थ: अरूणेन्द्र श्रीवास्तव

 

 

 

 

Web Title: Planting in your routine included ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया