मुख्य समाचार
UPTET : हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने किया निरस्त, 1 लाख से ज्यादा शिक्षकों को मिली राहत अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन साथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल
 

सिर्फ दावों में 'नो हेलमेट नो एंट्री पे फाइन देन एंट्री' अभियान, मख्य चौराहे का यह हाल..


GAURAV SHUKLA 17/06/2019 11:16:12
23 Views

17-06-2019174116sirfakhbarom1

Lucknow. यूपी डीजीपी द्वारा गुरुवार (13 जून) को हजरतगंज कोतवाली में की गयी बैठक के बाद लखनऊ पुलिस इन दिनों राजधानीवासियों को जागरुक करने के लिए पूरी तरह लामबंद है। हालांकि पुलिस पूर्व की भांति कई कवायदों के बाद इस पहल का असर भी सिर्फ अखबार और टीवी की सुर्खियों तक ही सीमित है। कहने को तो पुलिस पूरी तरह चेकिंग कर रही है और सभी को हेलमेट पहनने के लिए जागरूक कर रही है, लेकिन पुलिस अधिकारियों की ओर से किये जा रहे दावों की असलियत क्या है, वह राजधानी के मुख्य चौराहे पर ही देखा जा सकता है। फिर जब जिले के बड़े अधिकारियों के लिए फोटो स्पॉट बन चुके चौराहे का ही यह आलम हो तो बाकि जगहों का क्या हाल होगा उसकी भी कल्पना की जा सकती है। 

17-06-2019174136sirfakhbarom2

बता दें कि सोमवार (17 जून) से राजधानी में नो हेलमेट नो एंट्री पे फाउन देन एंट्री अभियान की शुरुआत हुई है। इस अभियान के तहत चिन्हित 10 मार्गों पर बिना हेलमेट एंट्री के प्रतिबंध लगा हुआ था। पुलिस विभाग द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार, इन मार्गों से हजरतगंज तक पहुंचने के लिए हेलमेट पहनना अनिवार्य था। लेकिन शाम तकरीबन 4 बजे जब हजरतगंज चौराहे पर किये जा रहे दावों की पड़ताल की गयी तो हकीकत कुछ और ही थी। आलम यह था कि चौराहे पर हेलमेट जांचने के लिए पुलिसकर्मी ही मौजूद नहीं था, जो पुलिसकर्मी वहां थे वह अपनी बनी चौकी में बैठे हुए थे या पास में खड़े ठेलों पर बातचीत कर रहे थे। जबकि बिना हेलमेट गाड़ी चला रहे लोग बड़े आराम से वहां से गुजर रहे थे। 

17-06-2019174157sirfakhbarom3

Web Title: sirf akhbaro me no helmet no entry abhiyan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया