मुख्य समाचार
UPTET : हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने किया निरस्त, 1 लाख से ज्यादा शिक्षकों को मिली राहत अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन साथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल
 

नायडू के 'प्रजा वेदिका' पर रातोंरात गरजा जगन का बुलडोजर


DEEP KRISHAN SHUKLA 26/06/2019 09:23 AM
19 Views

New Delhi. आंध्र प्रदेश में तख्ता पलट के बाद बहुत कुछ अप्रत्याशित हो रहा है। ताजा मामला राज्य के पूर्व सीएम चंद्रबाबू की आलीशान बंगल से जुड़ा है। जिसे राज्य के वर्तमान मुख्यमंत्री बाईएस जगन मोहन रेड्डी के आदेश में बाद रातोंरात जमींदोज करने की प्रकिया मंगलवार देर रात शुरू हो गयी। हलांकि इन दौरान चंद्रबाबू नायडू मौके पर नहीं रहे है। उनके बंगले 'प्रजा वेदिका' बुलडोजर की गर्जना शुरू हो चुकी है। बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह ही परिवार के साथ छुट्टी से लौटे नायडू सीधे ध्वस्त कराए जा रहे बंगले पर पहुंचेंगे। 

Jagan
बता दें कि आंध प्रदेश में सीएम की कुर्सी छिनने के बाद से चंद्र बाबू नायडू को दी जाने वाली सहूलियतें भी लगातार छिनती जा रही है। 
सबसे पहले नायडू समेत उनके परिवार को दी जाने वाली सुरक्षा कम कर दी गयी। बता दें कि उनके बेटे नारा लोकेश को अभी तक जेड श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त थी जिसे हटा लिया गया है। नारा लोकेश राज्य के पूर्व मंत्री भी है। 
इसके बाद नंबर लगा सीएम के आलीशान बंगले 'प्रजा वेदिका' का यह बंगला पूर्व टीडीपी सरकार में सीएम चंद्रबाबू नायडू के सरकारी आवास के निकट बनाया गया था। 
इस बंगले को सरकारी और पार्टी गतिविधियों के लिए किया जा रहा था। हाल में हुए चुनावों मिली हार के बाद बीती 5 जून को चंद्र बाबू नायडू ने वर्तमान सीएम जगन मोहन रेड्डी को पत्र लिख कर इस भवन का उपयोग पार्टी कार्यकर्ताओं और लोगों से मिलने के लिए करने की अनुमति मांगी थी।

Jagan
लेकिन उन्हें अनुमति मिलने के बजाया रेड्डी सरकार ने इस बंगले को ध्वस्त करने की दिशा में कदम बढ़ा दिया। 
मंगलवार देर रात इस इमारत पर राज्य के मुख्य मंत्री के आदेश पर बुलडोजर गरजना शुरू हो गया। यह कार्रवाई उस समय शुरू की गयी जब चंद्रबाबू नायडू अपने परिवार के साथ छुट्टी पर थें। 
बता दें कि इस बंगले पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई से पहले पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की दो दिवसीय बैठक के बाद फर्नीचर और इलेक्ट्रानिक उपकरण हटाने की प्रक्रिया शुरू हो गयी थी। 
जिसे लेकर टीडीपी के लोगों ने प्रदर्शन भी किया था। विरोध को देखते हुए मौके पर बड़े पैमाने पर पुलिस तैनात कर दिया गया है। 

यह भी पढ़े...मुलायम की समधन समेत 4 अफसरों से वसूले जायेंगे 50 लाख रुपये, जानिए पूरा मामला

 

 

 

Web Title: Jagan's bulldozer demolise Naidu's Praja Vedika late night ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया