विवाद: जानिए क्या है टीम इंडिया की भगवा जर्सी का राज


DEEP KRISHAN SHUKLA 27/06/2019 13:16:33
113 Views

New Delhi. क्रिकेट विश्व कप के बीच टीम इंडिया की जर्सी को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। जर्सी के रंग को लेकर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के नेताओं ने इसे मोदी सरकार की साजिश बताया है।  आरोप है कि केंद्र सरकार क्रिकेट में भी भगवा राजनीति को शामिल करने में जुटी है। जर्सी को लेकर मचे हो हल्ले के बीच आईसीसी की ओर से स्पष्ट्रीकरण जारी किया गया है। 

27-06-2019132715ControversyK1
मालूम हो कि विश्व कप के महा मुकाबले में 30 जून को भारत और इंग्लैंड के बीच मैच होगा। इस मैच में टीम इंडिया अपनी पारंपरिक नीले रंग के बजाय नारंगी रंग की जर्सी में मैदान में नजर आने वाली है। 

इस वैकल्पिक जर्सी में पारम्परिक नीले रंग के साथ साथ नारंगी रंग को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। यह विवाद खेल जगत में नहीं बल्कि राजनीति के जगत में उपजा है। जर्सी के नारंगी रंग को लेकर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने विरोध जताया है। 

27-06-2019132828ControversyK4
महाराष्ट्र राज्य विधानसभा में मुस्लिम विधायकों ने टीम इंडिया द्वारा के लिए तैयार की गई नारंगी जर्सी का विरोध किया है।
वहीं समाजवादी पार्टी के विधायक अबू आसिम आजमी का कहना है कि कि यह केंद्र सरकार की साजिश है जो क्रिकेट का भगवाकरण करना चाहती है। उन्होंने कहा कि तिरंगे में अन्य रंग हैं, केवल नारंगी ही क्यों चुना गया? 
पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक नसीम खान ने कहा कि मोदी सरकार पर भगवा राजनीति करने का आरोप लगाया है। 
  तो इसलिए बदली गयी जर्सी
30 जून को भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले मैच में टीम इंडिया नारंगी जर्सी में क्यों नजर आएगी इसकी खास वजह है। दरअसल दोनों ही टीमों की जर्सी का रंग एक सा है। ऐसे में नियमों के मुताबिक यदि ऐसी स्थिति आती है तो मेहमान टीम को अपनी वैकल्पिक जर्सी पहननी होती है। 

27-06-2019132801ControversyK3
  आईसीसी ने जर्सी को लेकर दी सफाई
टीम इंडिया की जर्सी को लेकर राजनीति इस कदर गरमाई कि आईसीसी को स्पष्ट्रीकरण देना पड़ा। आईसीसी का कहना है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को जर्सी के रंग के कई विकल्प दिए गए थे। जर्सी के रंग के साथ जो बेहतर रंग लगा वह चुन लिया गया। भारत की जो वैकल्पिक जर्सी चुनी गयी है उसका डिजाइन पुरानी टी 20 जर्सी से लिया गया है। इसे डिजाइन करने वाले अमेरिका में बैठें हैं। 
  2 जून को पीले रंग शर्ट में नजर आई थी द.अफ्रीका
एक ही रंग की जर्सी वाले देशों के बीच जब मैच होता है तो क्रिकेट प्रेमियों को अपने देश के खिलाड़ियों को पहचाने में दिक्कत न हो इसके लिए वैकल्पिक जर्सी का प्रावधान किया गया है। 
इसी वर्ल्ड कप में 2 जून को दक्षिण अफ्रीका ने बांग्लादेश के खिलाफ मैच में अफ्रीकी खिलाड़ी हरे रंग की जगह पीले रंग की शर्ट में मैदान पर नजर आ चुके हैं।  
  ये हैं 10 टीमों के वैकल्पिक रंग
दो टीमें एक जैसे रंग की जर्सी में मैदान में नहीं आ सकते है। यही वजह है कि आईसीसी के नियमों के मुताबिक हर टीम के पास एक वैकल्पिक रंग की जर्सी भी होती है। इस टूर्नामेंट में में हर टीम के पास अपनी पारम्परिक जर्सी के साथ एक वैकल्पिक जर्सी पहले से ही निर्धारित है। इसके मुताबिक अफगानिस्तान की जर्सी का रंग नीला और वैकल्पिक रंग लाल है। इसी तरह आस्ट्रेलिया की जर्सी का वैकल्पिक रंग हरा है। बांग्लादेश की जर्सी का रंग हरा और वैकल्पिक रंग लाल है। टीम इंडिया की वैकल्पिक जर्सी का रंग नारंगी जबकि न्यूजीलैंड का वैकल्पिक रंग सिल्वर ग्रे है। इसी तरह पाकिस्तान की जर्सी का वैकल्पिक रंग लाइम है। दक्षिण अफ्रीका का वैकल्पिक रंग सुनहरा और श्रीलंका का पीला है। 

27-06-2019132740ControversyK2
  वेस्टइंडीज और इंग्लैंड की नहीं है वैकल्पिक जर्सी
वेस्टइंडीज और इंग्लैंड की कोई वैकल्पिक जर्सी नहीं है। जिसकी खास वजह भी है। वेस्टइं​डीज की पारम्परिक जर्सी का रंग मैरून है। इस रंग की किसी अन्य देश की जर्सी नहीं है जिसके चलते टीम को किसी वैकल्पिक रंगा चुनाव नहीं करना पड़ा। वहीं दूसरी ओर विश्व कप की मेजबानी कर रही इंग्लैंड टीम को भी वैकल्पिक जर्सी की आवश्यकता नहीं है। ऐसा इसलिए है क्योंकि आईसीसी नियमों के मुताबिक मेजबानी करने वाली टीम को जर्सी बनी बदलनी होती है। उसके साथ मैच होने पर मेहमान टीम ही अपनी वैकल्पिक जर्सी पहनती है।  

यह भी पढ़ें...हादसा: पक्षी टकराने से फेल हुआ जगुआर विमान का इंजन, पायलट ने कराई सुरक्षित लैंडिंग


 

 

 

 

 

Web Title: Controversy: Know what is the secret of Team India's saffron jersey ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया