मुख्य समाचार
हरियाणा की बेटी बनेगी इस पाक क्रिकेटर की दुल्हन... एयरस्ट्राइक के समय ही पूरे युद्ध के लिए तैयार थी भारतीय सेना जनता की समस्याओं का किया जाए त्वरित गति से निदान : केशव प्रसाद वृक्षारोपण के साथ ही पौधों को सुरक्षित एवं संरक्षित करना सभी की जिम्मेदारी : मंत्री  मिशन चंद्रयान-2: भारत को मिली बड़ी उपलब्धि शुरू होने जा रहा देश का पहला वैदिक शिक्षा बोर्ड, रामदेव होंगे अध्यक्ष यूपी में बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितना हुआ महंगा अगस्ता वेस्टलैंड केस: कमलनाथ के भांजे को ED ने किया गिरफ्तार सफारी से टक्कर 2 दोस्तों की हत्या : 3 अभियुक्त गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी आर्थिक सुस्ती पर रघुराम राजन ने जताई चिंता, कहा-सरकार जल्द करे सुधार अभी-अभी: नहीं रहे कांग्रेस के ये दिग्गज नेता, पार्टी में मचा कोहराम बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा का निधन मायावती का आरक्षण पर बड़ा बयान, सरकार घूम-घूमकर करे ये काम.... लालू का चलना फिरना हुआ मुश्किल, डॉक्टर्स ने कहा- अब नहीं... यूजीसी ने प्लास्टिक बैन पर लिया बड़ा फैसला, विश्वविद्यालयों को लिखा पत्र शराब के नशे में फुटपाथ पर चढ़ाई कार, कई लोगों को किया घायल ताबड़तोड़ हत्याओं से दहला प्रयागराज, एक ही दिन में 6 मर्डर मिट्टी डालकर गड्ढामुक्त की जा रही डामर रोड
 

जी-20 सम्मेलन कल से,छाया रह सकता है ट्रेड वॉर और ईरान तनाव


RAGHVENDRA CHAURASIA 27/06/2019 18:11 PM
25 Views

Osaka. अमेरिका और चीन के बीच चल रहे ट्रेड वॉर और ईरान के साथ चल रहे तनाव के युद्ध में बदलने का खौफ,ये दो मुद्दे शुक्रवार से यहां शुरू हो रहे जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान छाये रह सकते हैं। विश्व के 20 अग्रणी देशों के नेताओं की मौजूदगी वाले सम्मेलन में उत्तर कोरिया और वेनेजुएला में गर्माता माहौल तथा धीमी होती वैश्विक अर्थव्यवस्था भी शीर्ष एजेंडे में शामिल रहेगी। 

G-20 conference can be shadowed by tomorrow, trade war and Iran tension

ट्रंप ने कहा शी.जिनपिंग के साथ फोन पर बात करने के बाद वार्ता को आगे बढ़ाएंगे

लंबे समय से चल रही ट्रेड वॉर में पिछले सप्ताह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यह कहते नरमी दिखाई थी कि वह चीनी राष्ट्रपति शी .जिनपिंग के साथ फोन पर अच्छी बातचीत के बाद वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए तैयार हैं। विशेषज्ञ भी शनिवार को संभावित दोनों नेताओं की इस वार्ता से बेहद उम्मीद जता रहे हैं। अमेरिका स्थित सेंटर फॉर स्ट्रेटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज के आथिक विशेषज्ञ मैथ्यू गुडमैन के मुताबिक राष्ट्रपति ट्रंप सौदेबाजी पसंद करते हैं। वह किसी समझौते पर सहमत हो सकते हैं। तीन महीने में यह समझौता हो सकता है।

अगर दोनों देश में समझौता नहीं होता है यह सभी के लिए होगा खतरा

एशिया -पैसेफिक आर्थिक सहयोग (एपेक) की पॉलिसी सपोर्ट यूनिट के निदेशक डेनिस हयू का कहना है कि यदि दोनों देशों में समझौता नहीं होता है तो यह सभी के लिए खराब होगा।

 

Web Title: G-20 conference can be shadowed by tomorrow, trade war and Iran tension ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया