उपचुनाव से पहले मुसीबत में पड़े अखिलेश और मायावती! हार का मंडराया खतरा


ABHIMANYU VERMA 12/07/2019 11:38:04
435 Views

Lucknow. यूपी में उपचुनाव से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। सीबीआई की ओर से भष्टाचार के दो नए मामलों की जांच जा रही है और ये दोनों ही मामले में इन दोनों के सरकार के दौरान के हैं। जिसमें अभी तक कई नौकरशाहों और राजनेताओं की सांठगांठ की पोल खुल रही है। जिससे उपचुनाव में अखिलेश और मायावती को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।  

12-07-2019115655AkhileshYadav1

मायावती संकट में फंसती नजर आ रही हैं, क्योंकि चीनी मिल घोटाले में उनके सबसे भरोसेमंद नौकरशाह नेतराम के परिसरों की सीबीआई ने तलाशी ली है। मायावती के कार्यकाल में हुए 1,100 करोड़ रुपये के चीनी मिल घोटाले में पूर्व नेतराम के साथ-साथ रिटायर्ड आईएएस विनय प्रिय दुबे भी फंसे हैं। इसके अलावा मायावती के पूर्व सचिव नेतराम पर सरकारी संपत्तियों की बिक्री का भी आरोप हैं।

यह भी पढ़ें:-...प्रयागराज: 35 गायों की संदिग्ध हालत में मौत, प्रशासन से उलट लोगों ने बतायी ये वजह

वहीं, अखिलेश यादव के सीएम रहने के दौरान हुए अवैध खनन घोटले के तार पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति और छह नौकरशाहों से जुड़ रहे हैं। इस मामले में पूर्व मंत्री प्रजापति और तीन आईएएस अधिकारियों के विभिन्न परिसरों की बुधवार को तलाशी ली गयी। 

सूत्रों की माने तो सीबीआई अखिलेश से उनके कार्यकाल में हुए रेत खनन घोटाले के सिलसिले में पूछताछ कर सकती है। एजेंसी यह सुनिश्चित करने के लिए इन फाइलों का ऑडिट करवाएगी कि क्या सीएम कार्यालय ने निर्धारित प्रक्रियाओं का पालन किया या नहीं। 

Web Title: Akhilesh Yadav and Mayawati may be trapped in big trouble right before the UP by-election ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया