असम में 8 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित, यूपी-बिहार में बारिश बनी आफत


ABHIMANYU VERMA 13/07/2019 16:04 PM
48 Views

New Delhi. भीषण गर्मी के बाद अब देश में लगातार हो रही मूसलाधार वर्षा ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा रखीं हैं। शुक्रवार को पूर्वोत्तर के कई हिस्सों में जमीन दरकने और मकान गिरने की घटनायें सामने आ रही हैं। वहीं, असम में करीब साढ़े आठ लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं।

over-8-lakh-affected from Floods in Assam, Uttar Pradesh and Bihar

अधिकारियों के मुताबिक असम के 27 में से 21 जिलों में बाढ़ की वजह से हालात सामान्य नहीं हैं। यहां नदियां खतरे के निशान के ऊपर बह रही हैं। वहीं, बाढ़ की वजह से अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है। किसानों की 27 हजार हेक्टेयर ज़मीनें बाढ़ की चपेट में आ गयी हैं और जहां 7643 लोगों ने 68 राहत कैंपों में शिफ्ट किया गया है। 

मौसम विभाग की ओर से बारिश के अनुमान के बाद फेरी सेवाओं को शुक्रवार को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा यूपी और बिहार के कई जिलों के लोग भी बाढ़ से परेशान हैं। 

पिछले तीन दिनों में यूपी के कई हिस्सों में जमीन दरकने और मकान गिरने की घटनाओं से 14 जिलों में करीब 15 लोगों की मौत हो गई। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक जुलाई 9 से 12 के बीच वर्षा जनित हादसों में करीब 133 इमारतें ढह गईं। वहीं करीब 23 जानवरों की भी इसमें जान चली गई। 

यह भी पढ़ें:-...भविष्य में जल संकट से बचने के लिए यूएई ने अनोखा तरीका ढूंढ निकाला

प्रदेश में लगातार हो रही लगातार मूसलाधार बारिश से उन्नाव, अंबेडकर नगर, प्रयागराज, बाराबंकी, हरदोई, खीरी, गोरखपुर, कानपुर नगर, पीलीभीत, सोनभद्रा, चंदोली, फिरोजाबाद, मऊ, बलिया और सुल्तानपुर से ज्यादा प्रभावित हैं। 

वहीं, बिहार के में पिछले एक हफ्ते से तेज बारिश हो रही है, जिससे कई जिलों में बाढ़ जैसे स्थिति हैं। बारिश कोसी क्षेत्र, सीमांचल और चम्पारण में तबाही लेकर आ रही है। कोसी का जलस्तर एक बार फिर से उफान पर है और इसमें लगातार वृद्धि हो रही है। 

Web Title: over-8-lakh-affected from Floods in Assam, Uttar Pradesh and Bihar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया