अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड


GAURAV SHUKLA 19/07/2019 10:06:05
87 Views

सोनभद्र। कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने सोनभद्र के जिला अस्पताल और उभ्भा गांव का दौरा करके उन पीड़ित परिवारों से मुलाकात की और उनका हाल-चाल जाना। उन्होंने उ0प्र0 की प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की तरफ से मृतकों को शोक संवेदना व्यक्त की।

19-07-2019101022aminivivadna1
पीड़ित परिवारों से मिलने के बाद कांग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू ने कहा कि जमीनी विवाद कह कर भाजपा सरकार और प्रशासन पीड़ितों के जले पर नमक छिड़क रहा है और अपनी जिम्मेदारी से बचने का प्रयास कर रहा है। यह जमीनी विवाद नहीं बल्कि सामूहिक नरसंहार है। लल्लू ने बताया कि आदिवासी समुदाय के लोग लंबे समय से अपनी जान माल की सुरक्षा को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री तक गुहार लगाई थी लेकिन उसको अनदेखा किया गया। घटना के दो दिन पहले भी आदिवासियों ने प्रशासन को अवगत कराया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अजय ने कहा कि प्रतिनिधि मंडल ने मौके पर यह भी पाया कि घटना स्थल पर जब भूमाफिया गोलीबारी कर रहे थे तो पीड़ितों ने पुलिस सहायता के लिए 100 डायल पर फोन किया लेकिन प्रशासन की मिलीभगत के चलते साजिशन पुलिस देर से पहुंची। अजय कुमार लल्लू ने आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि इतनी नृशंस नरसंहार होने के बाद भी प्रशासन मृतक आदिवासियों के शवों को घुमाता रहा और बाद में पीड़ित परिवारों पर दबाव बनाकर दाह संस्कार करा दिया।
प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि पूरे प्रकरण पर वे अपनी रिपोर्ट कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को भेज दिए हैं, जल्द ही श्रीमती गांधी पीड़ित परिवारों से आकर मुलाकात करेंगी। कांग्रेस पार्टी हमेशा से देश के किसानों, आदिवासियों, गरीबों और पीड़ितों के साथ खड़ी रही है और नृशंस हत्याकाण्ड में भी पीड़ितों के साथ खड़ी होकर लड़ाई लड़ेगी और न्याय दिलायेगी।
अजय ने मांग करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार तत्काल मृतक परिवारों को 25-25 लाख रुपये, घायलों को 15-15 लाख रूपये मुआवजे के साथ ही जमीन का पट्टा आवंटित करे। इसके साथ ही साथ पूरे प्रकरण की उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश के नेतृत्व में न्यायिक जांच कराने की मांग की। प्रतिनिधिमंडल में सोनभद्र और मिर्जापुर के जिला पदाधिकारियों समेत उ0प्र0 कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन एवं पूर्व विधायक भगवती प्रसाद चौधरी और पूर्व विधायक ललितेश पति त्रिपाठी भी शामिल रहे।

 

Web Title: amini vivad nahi tha ghorval kand ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया