अखिलेश यादव से मिलकर लोगों ने गिनायी समस्याएं


GAURAV SHUKLA 23/07/2019 09:41 AM
59 Views

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से सोमवार को पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में कई लोगों ने मुलाकात की। इनमें सरकारी उत्पीड़न के शिकार कई लोग थे तो कुछ अपनी समस्याएं लेकर आए थे। ज्यादातर लोगों का कहना था कि प्रदेश में चारों तरफ अराजकता है। किसान, नौजवान, व्यापारी सभी परेशान हैं। महिलाओं, बच्चियों के लिए कदम-कदम पर खतरे हैं। भ्रष्टाचार की कहीं कोई रोकथाम नहीं है। भाजपा सरकार के रहते नौजवानों को रोजगार मिलने की कोई सम्भावना नहीं है।

akhilesh se mile log ginai samasyae
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने आईपीएन को बताया कि अखिलेश से मिलने वालों का यह भी कहना था कि वे उनके द्वारा जनहित में किए गए कामों के लिए उन्हें बराबर याद करते हैं। आप धर्म के मार्ग पर चल रहे हैं जबकि भाजपा अधर्म के रास्ते पर है। कई लोगों ने कहा कि जबसे भाजपा सरकार बनी है उनका जीना दूभर हो गया है। कुछ नौकरी से बाहर किए गए हैं तो कुछ पुलिस उत्पीड़न के शिकार बने हैं। कई लोगों पर झूठे मुकदमें लगा दिए गए हैं।
मथुरा से आए एक पुजारी ने अखिलेश यादव से बताया कि उसके मंदिर से अष्टधातु की एक कीमती मूर्ति चोरी हो गई। पुलिस में रिपोर्ट के बावजूद कुछ नहीं हुआ। पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। कोई सुनने वाला नहीं है। गोवर्धन और नंदगांव से आए लोगों ने कहा कि मथुरा में आपने जो विकास कार्य कराये थे, उसके अलावा वहां कुछ भी नहीं हुआ है। भाजपा राज में मथुरा-वृन्दावन को कोई पूछने वाला नहीं है।
पूर्व मुख्यमंत्री को यह भी बताया गया कि बिजली संकट से जनता को निजात नहीं मिल रही है। बिजली कटौती जारी है और गलत मीटर रीड़िंग के अलावा कनेक्शन मिलने में बहुत परेशानी है। कई जनपदों में लोगों ने अवैध खनन की शिकायत की और कहा कि खनन माफिया मनमानी कर रहे हैं। उन पर कोई रोक नहीं है। लोगों की शिकायत यातायात अव्यवस्था को लेकर भी रही। जगह-जगह जाम लगने से लोग बहुत दिक्कत में है। अखिलेश से कई लोगों ने कहा कि अभी भी आवारा पशुओं से उनकी फसल को बहुत नुकसान हो रहा है। फसल बचाने के लिए उन्हें रात-रात जागकर पहरेदारी करनी पड़ती है। किसानों की दिक्कतों की तरफ भाजपा सरकार का कोई ध्यान नहीं है। उनको फसल का लाभप्रद मूल्य मिलने की न तो उम्मीद है और नहीं समय पर खाद, पानी, बिजली, कीटनाशक मिल रहे हैं। गन्ना किसानों का बकाया भुगतान अभी तक नहीं हुआ है।

Web Title: akhilesh se mile log ginai samasyae ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया