कर्नाटक का नाटक: स्पीकर ने 14 बागी विधायकों को घोषित किया आयोग्य


DEEP KRISHAN SHUKLA 28/07/2019 13:23:47
188 Views

New Delhi. कर्नाटक में चल रहा राजनीति का नाटक थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां हर रोज कोई न कोई नया घटनाक्रम सियासी पारे को चढ़ा देता है। कुछ ऐसा ही उस समय हुआ जब विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार ने 14 बागी विधायकों को आयोग्य घोषित करते हुए उनकी सदस्यता रद्द करने का ऐलान कर दिया। इन विधायकों में 11 कांग्रेस के तो 3 जेडीएस के हैं। इससे पहले वह जेडीएस के 3 विधायकों को भी अयोग्य घोषित कर चुके हैं। 

28-07-2019133200Karnatakadram1
14 बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करने के बाद स्पीकर रमेश कुमार ने कहा कि उनका यह फैसला कोई राजनीतिक ड्रामा नहीं बल्कि अपने न्यायिक विवेक से यह फैसला लिया है। 
रविवार को उन्होंने प्रेस कांफ्रेस के जरिए बागी विधायकों को आयोग्य घोषित करने का ऐलान किया। इससे पहले उन्होंने गुरूवार को कांग्रेस के तीन बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करते हुए शेष पर जल्द फैसला लेने की बात कही थी। 
रविवार को जिन विधायकों की सदस्यता उन्होंने रद्द की है उनमें कांग्रेस के बैराठी बसवराज, मुनिरत्न, एसटी सोमशेखर, रोशन बेग, आनंद सिंह, एमटीबी नागराज, बीसी पाटिल, प्रताप गौड़ा पाटिल, डॉ. सुधाकर, शिवराम हेब्बार, श्रीमंत पाटिल शामिल है। 
स्पीकर की कार्रवाई की जद में आने जेडीएस विधायकों में के. गोपालैया, नारायण गौड़ा, ए एच विश्वनाथ के नाम शामिल हैं। 
मालूम हो कि सोमवार को राज्य के नए मुख्यमंत्री येदियुरप्पा को सदन में अपना बहुमत सिद्ध करना है। 17 विधायकों के अयोग्य घोषित होने के बाद उनकी विधान सभा से सदस्यता भी रद्द हो गयी है। ऐसे में अब राज्य में विधानसभा सदस्यों की संख्या 207 बची है। 
जिससे बहुमत शाबित करने के लिए जादूई आंकड़ा अब 105 ही बचा है। इतने विधायक पहले ही भाजपा के पक्ष में वोट कर चुके हैं। 

यह भी पढ़ें...आजम का बिहार के पूर्व सीएम ने किया समर्थन, बयान को बताया गुड सेंस की बात

 

 

Web Title: Karnataka drama: Speaker declared 14 rebel MLAs commissioned ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया