राहुल का ट्वीट #GovtMurdersRTI आरटीआई को कमजोर कर भ्रष्टाचारियों की मदद कर रही मोदी सरकार


DEEP KRISHAN SHUKLA 28/07/2019 14:11:11
39 Views

New Delhi. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार संशोधन विधेयक के जरिए आरटीआई एक्ट को कमजोर कर सीधे तौर पर भ्रष्टाचार करने वालों की मदद करने का काम कर रही है। #GovtMurdersRTI हैशटैग के साथ किए गए अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने कहा कि यह बेहद ही चौंकाने वाला है कि भ्रष्टाचार के मुखर विरोधियों की भीड़ अचानक गायब हो गई है। 
मालूम हो कि बीते गुरूवार को जबरदस्त बहस के बाद आखिरकार सूचना के अधिकार अधिनियम का संशोधन विधेयक 2019 राज्यसभा में पारित हो गया। 

28-07-2019141750Rahulstweet,1
हलांकि कांग्रेस समेत विपक्ष के अन्य दलों ने इस बिल को सेलेक्ट कमिटी के पास भेजने की मांग की थी लेकिन इसके लिए कराई गयी वोटिंग में यह मामला फेल हो गया। 
सेलेक्ट कमिटी के पास बिल को भेजने के प्रस्ताव के पक्ष में 75 जबकि विपक्ष में 117 वोट पड़े थे। इसके बाद कांग्रेस ने सदन से वॉकआउट भी किया था। 
बता दें कि संशोधन के बाद सूचना आयुक्तों के वेतन, सेवा शर्तों के निधारण करने का अधिकार केंद्र के पास हो जाएगा। 
इस बात को लेकर कांग्रेस समेत विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार पर यह आरोप लगाया था कि संशोधन के जरिए सरकार कानून को कमजोर करने का काम कर रही है। 
इसी बात को लेकर राहुल गांधी ने अपना ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार आरटीआई कानून की हत्या कर भ्रष्टाचारियों की मदद करने का काम कर रही है। यह ट्वीट उन्होंने हैशटैग #GovtMurdersRTI के साथ साझा किया है। 
बता दें कि मूल कानून में यह प्रावधान था कि मुख्य सूचना आयुक्त का वेतन, भत्ते एवं सेवा की अन्य शर्तें मुख्य चुनाव आयुक्त और सूचना आयुक्त की सेवा एवं वेतन चुनाव आयुक्त के समान रहेंगी। 

यह भी पढ़ें...GBC Part -2: लखनऊ में दो हजार करोड़ के मॉल का होगा निर्माण, 5 हज़ार लोगों को मिलेगा रोजगार

 

 

Web Title: Rahul's tweet, Modi government helping the corrupt by weakening RTI ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया