कर्नाटक: भाजपा सरकार के बहुमत परीक्षण के ​एक दिन पहले स्पीकर ने लिया बड़ा फैसला, मचा हड़कम्प


RAJNISH KUMAR 28/07/2019 15:25:59
1394 Views

New Delhi. कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद राजनीतिक उठापटक दौर लगभग खत्म हो चुका है, हालांकि येदियुरप्पा सरकार का वजूद अब तलवार की धार पर है। इसकी वजह कर्नाटक के विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार का फैसला है। बता दें कि कर्नाटक में अभी येदियुरप्पा सरकार को बहुमत परीक्षण से गुजरना है, हालांकि इससे पहले स्पीकर की ओर से लिया गया फैसला काफी अहम माना जा रहा है।

28-07-2019152938SpeekarRamesh1

दरअसल, कर्नाटक में बीते करीब 14 महीने पहले हुए विधानसभा चुनावों के बाद भाजपा नेता येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, हालांकि बहुमत परीक्षण से पहले ही उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद कांग्रेस और जदएस ने सरकार बनाने का दावा पेश किया था। कांग्रेस ने जदएस नेता एचडी कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री का पद आफर किया था। इसके बाद से ही प्रदेश में सियासी संकट बना हुआ था। आए दिन राजनीतिक विवाद देखने को मिला रहा था। 

बीते 14 महीने से चला आ रहा संकट कांग्रेस और जदएस के 17 विधायकों के इस्तीफे के बाद से और गहरा हो गया था। इसके बाद बहुमत परीक्षण न साबित कर पाने के बाद कांग्रेस-जदएस की सरकार गिर गई थी और मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा। एचडी कुमारस्वामी के इस्तीफे के बाद कर्नाटक में एक बाद फिर मुख्यमंत्री के रूप में येदियुरप्पा ने ही शपथ ली है। हालांकि येदियुरप्पा सरकार का भी वजूद तलवार की धार पर नजर आ रहा है। इसकी वजह है कर्नाटक के विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार का फैसला।

28-07-2019152941SpeekarRamesh2

दरअसल, कर्नाटक के राज्यपाल रमेश कुमार ने 14 और विधायकों को अयोग्य करार दे दिया है। इससे पहले उन्होंने तीन विधायकों को अयोग्य करार दिया था। अब कुल मिलाकर 17 विधायकों को अयोग्य करार दिया गया था। कांग्रेस के 14 और जदएस के तीन विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष को इस्तीफा दिया था, लेकिन उन्होंने इस्तीफे को स्वीकार नहीं किया था। 

यह भी पढ़ें - विदेश से लौटे राहुल गांधी, अगले सप्ताह हो सकता है ये बड़ा ऐलान, कांग्रेस नेताओं की टिकी निगाहें

कर्नाटक में 17 विधायकों के अयोग्य करार दिए जाने के बाद 224 सदस्यीय विधानसभा में अब 204 सदस्यीय हो गई है। इसलिए बहुमत का आंकड़ा 104 हो गया है। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी के पास कुल 105 विधायक हैं। भाजपा के पास बहुमत से सिर्फ एक सदस्य ज्यादा है। ऐसे में भाजपा सरकार पर भी संकट मंडरा रहा है।

 

Web Title: Speekar Ramesh Kumar ne liya bad faisla ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया