मोदी सरकार को बड़ी सफलता: जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल लोकसभा से भी पास


RAJNISH KUMAR 06/08/2019 19:12 PM
56 Views

New Delhi. केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाला आर्टिकल 370 समापत कर दिया है। जम्मू-कश्मीर राज्य पुनर्गठन बिल लोकसभा में पेश हुआ। अब इस मामले को लेकर लोकसभा में चर्चा भी हुई। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने उठाए गए सभी सवालों के जवाब दिया। है। इसके बाद विधेयक पर लोकसभा की भी मुहर लग गई है। इसके विधेयक के पक्ष में 367 मतदान हुआ, जबकि विपक्ष में 67 वोट पड़े हैं। बता दें कि जम्मू-कश्मीर राज्य पुनर्गठन बिल राज्यसभा में सोमवार को पेश किया गया था, जो वहां से भी पास हो गया था। अब विधेयक पर राष्ट्रपति का हस्ताक्षर होना है। राष्ट्रपति के इस्ताक्षर होते ही ये कानून का रूप ले लेगा।

modi sarakar ko badi safalta, loksabha se bhi bill pass

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के खंडों को हटाने के मोदी सरकार के फैसले पर मंगलवार को लोकसभा में बहस का जवाब देते हुए केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, ये भारत का बच्चा-बच्चा बोलता है। उन्होंने कहा कि कभी हम पूछते हैं कि उत्तर प्रदेश भारत का अभिन्न अंग है, लेकिन क्यों कहना पड़ता है कि कश्मीर भारत का अंग है। उन्होंने कहा कि धारा 370 आज सदन के आर्शीवाद से समाप्त हो जाएगी। 

अमित शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर में स्थिति जैसे ही सामान्य हो जाएगी, उसे पूर्ण राज्य का दर्जा दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 कश्मीर और भारत को एक दूसरे से नहीं जोड़ती है। इसी अनुच्छेद की वजह से लोगों में शंका पैदा करती थी कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है या नहीं। 

अमित शाह ने कहा कि विपक्षी दलों के भी कुछ लोग चाहते हैं कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटे। यही नहीं, उन्होंने यह भी कहा कि किसने जम्मू कश्मीर के मुद्दे को बिना कैबिनेट के विश्वास में लिए रेडियो पर यूएन ले जाने की बात की, प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने की थी। उन्होंने कि जो लोग अनुच्छेद 371 को को हटाने की बात कह रहे उन्हें स्पष्ट करना चाहता हूं कि अनुच्छेद 371 और 370 में काफी अंतर है, इसे जनता समझती है, आप उन्हें गुमराह नहीं कर पाएंगे।

उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 पर बोलने के लिए किसी में साहस नहीं था। कहा जा रहा है कि अनुच्छेद 370 पर सही नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं बता दूं कि ये रास्ता सही है, लेकिन वोटबैंक की राजनीति करने वालों के लिए ये ठीक नहीं है। उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था, इंटरनेट आदि सवालों के जवाब भी दिए। अमित शाह ने कहा कि पहले तो इससे बुरी हालत थी, हमने वहां सुरक्षा व्यवस्था के लिए सब कुछ किया है।

उन्होंने राजनीति दलों से चर्चा न करने को लेकर जवाब देते हुए कहा कि चर्चा करते करते 70 साल बीत गए, लेकिन चर्चा का अंत ही नहीं हुआ है। हम किससे चर्चा करें, जो पाकिस्तान से चंदा लेते हैं। उन्होंने कहा कि हम हुर्रियत से कोई बात नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोग हमारे हैं, हम उनकी सुरक्षा को लेकर हर कदम उठाएंगे। इसके साथ उन्होंने विपक्षी दलों की ओर से उठाए सभी सवालों का जवाब दिया।

Web Title: modi sarakar ko badi safalta, loksabha se bhi bill pass ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया