दो और राज्यसभा सदस्य दे सकते है अखिलेश को झटका, अटकले तेज


DEEP KRISHAN SHUKLA 08/08/2019 15:06:28
276 Views

Lucknowपार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव भले ही हर मोर्चे पर सपा का कद बढ़ाने की जद्दोजहद कर रहे हो लेकिन समाजवादी पार्टी टूटन कम होने का नाम नहीं ले रही है। एक एक कर तीन राज्यसभा सदस्यों के इस्तीफे के बाद पार्टी को तगड़ा झटका लगा है। इस बीच अब दो और राज्यसभा सदस्यों के पार्टी छोड़ने की अटकले सियासत के गलियारों में तेज हो गयी है। बताया जा रहा है कि ये दोनों भाजपा के साथ जाने की तैयारी में हैं। हलांकि पाटी और राज्यसभा सदस्य दोनों ही इन अटकलों को नकार रहे हैं। 

08-08-2019151119TwomoreRajya1
मालूम हो कि हाल के दिनों में समाजवादी पार्टी को राज्यसभा में तगड़ा झटका लगा है। पार्टी के तीन सदस्यों ने एक के बाद एक कर पार्टी को अलविदा कह दिया। 
पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर और सुरेंद्र नागर ने पार्टी छोड़ने के बाद भाजपा का दामन भी थाम लिया है। इसके ठीक बाद संजय सेठ ने भी समाजवादी पार्टी से किनारा कर लिया है। 
यह सब ऐसे समय पर हो रहा है जब लोकसभा चुनाव में बड़ा धोखा खाने के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पार्टी को नए सिरे से खड़ा करने की तैयारी में जुटे हैं। 

08-08-2019151144TwomoreRajya2
इस बीच राजनीतिक गलियारों में एक नई चर्चा ने जोर पकड़ा है कि दो ओर राज्य सभा सदस्य पार्टी से इस्तीफा देने वाले हैं। 
बता दें कि हाल में तीन सदस्यों के इस्तीफे के बाद पार्टी के पास राज्य सभा में मात्र दस सदस्य ही बचे हैं। 
बताया जा रहा है कि कानपुर से चौधरी सुखराम सिंह यादव और बांदा से विशंभर प्रसाद निषाद अब पार्टी को छोड़ने वाले हैं। 
बता दें कि ये दोनों ही नेता पुराने सपाई है उनकी पार्टी के प्रति निष्ठा को देखते हुए ही पार्टी ने वर्ष 2016 के जुलाई माह में दोनों को राज्यसभा भेजा था। इन दोनों राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल 2022 तक है। 

08-08-2019151217TwomoreRajya3
सुखराम सिंह को मुलायम सिंह यादव का बेहद करीबी माना जाता है लेकिन उनकी अखिलेश यादव से पटरी नहीं खाती है। 
जब शिवपाल सिंह ने अलग पार्टी बनाई थी तभी ये कयास लगाए जा रहे थे कि सुखराम प्रसपा में जा सकते हैं हालांकि उन्होंने ऐसा किया नहीं है। 
सपा से उनकी बढ़ती दूरी को राजनीतिक गलियारों में भाजपा से करीबी से जोड़कर देखा जा रहा हैं। खुद को लेकर लगाई जा रही अटकलों पर उन्होंने साफ किया है शिवपाल और मुलायम दोनों से मेरी नजदीकियां है।राज्यसभा सदस्य होने के चलते दिल्ली में वह भाजपा नेताओं से भी मिलते हैं। लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि वह पार्टी छोड़ने जा रहे हैं।
वहीं दूसरी ओर राज्यसभा सदस्य विशंभर प्रसाद को अपनी पार्टी में खींच लाने की भाजपाई जोर आजमाइश कर रहे हैं। 

08-08-2019151303TwomoreRajya5
सूत्रों की माने तो अब तक कई भाजपा नेताओं की उनसे मुलाकात हो चुकी है। हलांकि निषाद ने भी पार्टी छोड़ने की अटकलों को सिरे से नकार दिया है। उनका कहना है जिन नेताओं को जाना था वे चले गए। मैं सपा को छोड़ कर कहीं जाने वाला नहीं हूं। 
इन दोनों नेताओं के भाजपा में जाने की अटकलों को पार्टी की जा​तीय गणित से जोड़ कर देखा जा रहा है। 
ऐसे कयास लगाए जा रहे है कि अगर ये दोनों सपा छोड़ते हैं तो इन दोनों बड़े चेहरों के जरिए भाजपा की यादव और निषाद बिरादरी के वोटरों पर पकड़ मजबूत हो जाएगी। 

यह भी पढ़ें...आखिर कहां गए विजिटर्स वीजा पर राजधानी लखनऊ आए 31 पाकिस्तानी?

 

 

 

 

 

 

Web Title: Two more Rajya Sabha members can give a shock to Akhilesh, speculation intensified  ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया