परम्परा के विपरीत किसी भी कार्य को किये जाने की मंजूरी न दी जाए : मुख्यमंत्री


GAURAV SHUKLA 11/08/2019 12:05:50
97 Views

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी ईद-उल-अज़हा (बकरीद), सावन का अंतिम सोमवार, रक्षा बन्धन, स्वतंत्रता दिवस, जन्माष्टमी के अवसर पर कानून-व्यवस्था के सम्बन्ध में पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के पर्याप्त प्रबन्ध सुनिश्चित कर लिए जाएं। उन्होंने हर स्तर पर त्योहार को शान्तिपूर्वक सम्पन्न कराने, सुरक्षा प्रबन्ध चाक-चैबन्द रखने तथा असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगाह रखने के भी निर्देश दिये हैं। परम्परा के विपरीत किसी भी कार्य को किये जाने की मंजूरी न दी जाए।

11-08-2019131107cmboleparamp1
मुख्यमंत्री शनिवार को अपने सरकारी आवास पर आगामी पर्वों एवं स्वतंत्रता दिवस के सम्बन्ध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में श्रावण मास चल रहा है, जिसमें कांवड़ियों द्वारा कांवड़ यात्रा की जा रही है, जिसका अंतिम सोमवार और बकरीद, एक ही दिन अर्थात 12 अगस्त को होगी।

इसके दृष्टिगत सतर्क दृष्टि रखी जाए, ताकि कोई अप्रिय घटना न घटित हो। उन्होंने संवेदनशील जनपदों एवं स्थलों के दृष्टिगत पूर्व तैयारी एवं कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ईद-उल-अज़हा के अवसर पर सभी जनपदों में गैर-परम्परागत रूप से खुले स्थानों पर विशेषकर मिश्रित आबादी वाले या धर्मस्थलों के निकट किसी भी प्रकार के विवाद की आशंकाओं को हर हाल में रोका जाए। जहां विवाद की आशंका हो, वहां पर पहले से पुलिस पिकेट, गश्त आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटित न हो।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि ईद-उल-अज़हा के अवसर पर नमाज़ के समय, मन्दिरों में पूजा-अर्चना तथा जल चढ़ाते समय सतर्क दृष्टि रखी जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि प्रतिबन्धित पशुओं या गोवंशी पशुओं की कुर्बानी के सम्बन्ध में विशेष सतर्कता बरतते हुए इन्हें रोका जाए, ताकि कोई अप्रिय घटना घटित न हो। उन्होंने ईद-उल-अज़हा के दौरान पूर्व में हुई घटनाओं एवं संवेदनशील जनपदों व स्थलों की समीक्षा किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि असामाजिक तत्वों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री ने सभी जनपदों में साफ-सफाई के विशेष प्रबन्ध, निर्बाध विद्युत एवं जलापूर्ति व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पर्वों और त्योहारों को शान्ति के साथ मनाये जाने में किसी भी प्रकार की बाधा नहीं आनी चाहिए। इसके साथ ही, उन्होंने जन्माष्टमी के सम्बन्ध में भी पूर्व से तैयारियों को सुनिश्चित किये जाने की बात कही।

11-08-2019131121cmboleparamp2
मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी उच्चाधिकारी क्षेत्रों में भ्रमण करें। अधिकारीगण अपने-अपने सम्बन्धित जनपदों में भ्रमण तथा थाना स्तर पर निरीक्षण भी करें। त्योहारों के सम्बन्ध में आवश्यक सावधानियों के दृष्टिगत त्यौहार रजिस्टर का अवलोकन करते हुए कार्रवाई करें। स्वास्थ्य सम्बन्धी सुविधाओं और चिकित्सालयों की भी व्यवस्थाएं चुस्त-दुरुस्त रखी जाएं।

ऐसी किसी भी घटना को रोका जाए, जिसके कारण विवाद या तनाव पैदा होता हो। उन्होंने कहा कि संवाद से विवादों का समाधान स्थानीय स्तर पर निकाला जाए। प्रत्येक स्तर के पुलिस अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में फुट पेट्रोलिंग भी सुनिश्चित करें। किसी भी घटना के सम्बन्ध में प्रत्येक स्तर पर जवाबदेही तय की जाए। जिला व पुलिस प्रशासन समन्वय स्थापित कर सुरक्षा प्रबन्धों के सम्बन्ध में कार्रवाई करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपदों में थाना स्तर पर पीस कमेटी की बैठकें सुनिश्चित करते हुए संवाद स्थापित किया जाए। विवादित विषयों पर पूर्व से ही समाधान निकाला जाए। सोशल मीडिया पर भी सतर्क दृष्टि रखी जाए। अफवाहों को फैलने से रोका जाए और उनका तत्काल खण्डन किया जाए। सार्वजनिक स्थलों पर कुर्बानी न होने दी जाए। मदरसों एवं अन्य शिक्षण संस्थानों में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर विशेष ध्यान दिया जाए। तिरंगा यात्रा आदि की भी जानकारी कर ली जाए। भू-सम्बन्धी एवं अन्य विवादों का समाधान सुनिश्चित किया जाए। डायल-100 की गाड़ियां निरन्तर गतिशील रहें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रक्षा बन्धन पर्व के मद्देनजर महिलाओं के आवागमन में कोई असुविधा न हो। राज्य सरकार ने महिलाओं के लिए परिवहन निगम की सभी श्रेणी की बसों में इस पर्व के अवसर पर निःशुल्क यात्रा की सुविधा प्रदान की है। उनके प्रति किसी भी प्रकार की छेड़खानी, दुर्व्यवहार या आपराधिक घटनाओं को हर हाल में रोका जाए। इस दौरान मेलों, भीड़भाड़ वाले स्थानों पर विशेष चैकसी सुनिश्चित की जाए। एण्टी सबोटाज दस्ता सतर्क रहे। ध्वनि विस्तारक यंत्रों के सम्बन्ध में नियमों का पालन सुनिश्चित किया जाए। संवेदनशील स्थलों के दृष्टिगत अतिरिक्त फोर्स की आवश्यकतानुसार व्यवस्था कर ली जाए।

11-08-2019131149cmboleparamp3
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार अपराधियों और अपराधों के प्रति जीरो टॉलरेन्स की नीति अपनाते हुए अपराधमुक्त, भयमुक्त एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि छोटी से छोटी घटनाओं में शीघ्रता से कार्रवाई की जाए। उन्होंने कानून से खिलवाड़ करने वाले असामाजिक तत्वों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इस सम्बन्ध में लापरवाही या शिथिलता क्षम्य नहीं होगी।

पूर्व में, मुख्य सचिव डॉ0 अनूप चन्द्र पाण्डेय एवं अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगामी पर्वों एवं स्वतंत्रता दिवस के दृष्टिगत सभी अधिकारियों को सतर्क रहने, साफ-सफाई की व्यवस्था, निर्बाध विद्युत एवं जलापूर्ति सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये।

Web Title: cm bole parampare ke vipreet kaam na hone diya jae ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया