अमेठी मनरेगा लेखाकार का रिश्वत वाला वीडियो वायरल! 


GAURAV SHUKLA 13/08/2019 13:48:44
54 Views

- अमेठी से शिवकेश की रिपोर्ट 

LUCKNOW. सूबे में योगी सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही लगातार स्वच्छ प्रशासन और नागरिकों को अच्छी सुविधा मुहैया कराने के साथ पारदर्शी सरकार होने के दावे चरम पर हैं, लेकिन अमेठी में यह दावे लगातार फेल होते दिखाई पड़ रहे हैं। इसका कारण साफ़ है नौकरशाह किसी भी कीमत पर अपनी छवि बदलने को तैयार नहीं दिखाई पड़ रहे हैं। फिलहाल अब साफ़ तौर कहा जाने लगा है कि घूसखोरी तो नौकरशाही की रगों में दौड़ रही है और इससे निजात पाना संभव नहीं बल्कि नामुमकिन है।हम आपको ऐसा ही एक नौकरशाह की कहानी बताने जा रहे हैं जिसे सुन कर आपके होश जरूर उड़ जायेंगे। यहाँ यह नहीं कहा जा सकता कि सरकारी आफिसों में काम कराने को लेकर सभी घूस लेते हैं लेकिन आज भी बहुत से अधिकारी और कर्मचारी ऐसे हैं, जो बिना किसी अवैध वसूली के लोगों का काम करते हैं। हालांकि ऐसे लोगों की संख्या शायद कम ही है।

13-08-2019141001AMETHIRISWATK1
 उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ द्वारा मुख्यमंत्री पद ग्रहण करने के बाद से ही राज्य में भ्रष्टाचार ख़त्म करने की बाते की जा रही है। सामने योगी सरकार की अच्छी छवि बनाने की कोशिश कर रही है।  इन सब के चलते अमेठी में योगी सरकार के एक बाबू पर घूस लेते हुए एक कथित वीडियो सामने आया है। जब इस वायरल बीडीओ की जाँच पड़ताल की गई तो मामला भेटूआ बिकासखंड के मनरेगा लेखाकार बरुण कुमार सिंह का सामने आया। दरअसल ये मामला यूपी के अमेठी जनपद भेटूआ ब्लॉक का है जहाँ ब्लॉक के मनरेगा लेखाकार फाइल पास करने के नाम पर खुलेआम रिश्वत लेते हुए कैमरा में कैद हो गए है। घूस के इस मामले में एक व्यक्ति ने इस रिश्वतखोर बाबू को रिश्वत खुलेआम पटल पर देता दिखाई दे रहा है। रिश्वत खोरी के काले चिट्ठो की तस्वीर मोबाइल के कैमरा में कैद भी कर ली गई है। कैद किये गए इस वीडियो में ये रिश्वतखोर बाबू काम करने के एवज़ में  हज़ारो रुपये रिश्वत लेते हुए दिखाई दे रहा है।

 

देखें वीडियो 

AMETHI RISWATKHORI KA VIDEO VIRAL

Web Title: AMETHI RISWATKHORI KA VIDEO VIRAL ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया