पहलू खां मामले में मायावती ने लिया बड़ा फैसला, सरकार से समर्थन...


NAZO ALI SHEIKH 17/08/2019 11:29:56
608 Views

Lucknow. पहलू खान की हत्या मामले के सभी छह आरोपियों के बरी होने पर मायावती ने गहलोत सरकार पर नाराजगी जताई है। मायावती ने कांग्रेस सरकार को बेहद लापरवाह और निष्क्रिय बताया है। वहीं, कठूंबर में दृष्टि बाधित दलित युवक की हत्या के बाद उसके पिता ने आत्महत्या कर ली है। 

17-08-2019113351Mayawatitook1

  समर्थन वापस

पहलू खां प्रकरण में लापरवाही देखते हुए ऐसा माना जा रहा है कि राज्य सरकार के प्रति मायावती की और नाराजगी बढ़ सकती है। ऐसा होने पर ये सवाल भी उठ रहा है कि क्या बसपा सुप्रीमो राज्य सरकार से बाहरी समर्थन वापस ले लेंगी। वहीं दूसरी तरफ बसपा विधायकों ने शुक्रवार को इस मामले में सीएम आशोक गहलोत से मुलाकात की।  शाति व्यवस्था सहित और भी मुद्दों पर चर्चा हुई। 

यह भी पढ़ें... सिर्फ कागजों तक सीमित है पीएम मोदी के दावे और घोषणाएं- बसपा सुप्रीमो

विधायक जोगेंदर अवाना ने कहा कि अलवर में दलित युवक की हत्या और उनके पिता की मृत्यु पर उच्च स्तर पर जांच कराने की मांग रखी है। साथ ही यह सवाल भी उठाए हैं कि दृष्टिबाधित व्यक्ति आत्महत्या कैसे कर सकता है। इस मामले के बाद लोगों में नाराजगी है, बसपा विधायकों का  कहना है कि दलित युवक की पिछले दिनों मॉब लिंचिंग में हत्या हुई थी और इंसाफ नहीं मिलने के कारण मृतक युवक का पिता तनाव में था। पिता को केस खत्म करने की धमकी दी जा रहीं थीं। उसके पिता ने इस वजह से आत्महत्या कर लिया या हत्या हुई है। इस बात का खुलासा होना ही चाहिए। 

  गुढ़ा ने दिया विपरीत बयान

इस मामले में बसपा एमएलए राजेंद्र गुढ़ा ने बसपा सुप्रीमो पर ही सवाल उठा दिए हैं। उन्होंने मायावती के खिलाफ बयान देते हुए सवाल किया कि यूपी में बैठकर ट्वीट किए जा रहे हैं जबकि उन्हें पहलू खां मामले की पूरी जानकारी ही नहीं थी। हालांकि गुढ़ा के इस बयान के उलट बसपा विधायकों ने पहलू खां और दलित की मॉब लिंचिंग और उसके पिता की मौत पर सवाल खड़े किए हैं।

  क्या लिखा था मयावती ने ट्वीट में

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर लिखा कि राजस्थान कांग्रेस सरकार की घोर लापरवाही व निष्क्रियता के कारण बहुचर्चित पहलू खान माब लिंचिंग मामले में सभी 6 आरोपी वहां की निचली अदालत से बरी हो गए, यह अतिदुर्भाग्यपूर्ण है। पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के मामले में वहां की सरकार अगर सतर्क रहती तो क्या यह संभव था, शायद कभी नहीं।

बताते चलें कि प्रदेश की गहलोत सरकार का बीएसपी के सभी 6 विधायक बाहर से समर्थन कर रहे हैं। हाल ही में राज्य सभा उप चुनाव  के लिए भी बसपा ने कांग्रेस के पक्ष में वोट करने का ऐलान किया था। 

Web Title: Mayawati took a major decision in the pahlu Khan case, support from the government ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया